अधूरे कार्याे की दे दी सीसी, संकुचित स्थान पर खेल मैदान का निर्माण

शिकायत के बाद भी जांच अधर में

( संतोष मिश्रा+91 84589 45206)
शहडोल। जनपद पंचायत बुढ़ार के ग्राम सेमरिहा के दर्जनों ग्रामीणों ने कलेक्टर सहित जनपद के सीईओ को पंचायत पदाधिकारियों की मनमानी की शिकायत सौंपते हुए कार्यवाही की मांग की है, दिये गये शिकायत पत्र में ग्रामीणों ने चार बिन्दुओं पर अलग-अलग आरोप लगाये हैं, जिसमें भ्रष्टाचार से लेकर मनमानी और नियम विरूद्ध काम करने के मामले शामिल हैं।
निर्माण अधूरा, दे दी सीसी
ग्रामीणों ने शिकायत में उल्लेख किया कि सेमरिहा पंचायत के ग्राम केशौरी में वर्ष 2013-14से वन रहा नवनिर्मित सामुदायिक भवन आज भी अधूरा पड़ा हुआ है।भवन की दशा को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि सामुदायिक भवन निर्माण में राशि का बंदरबांट करते हुए व्यापक गड़बड़ी करते हुए गुणवत्ताहीन कार्य किया गया है। लोक निर्माण विभाग की मॉनीटरिंग में बने इस भवन में निर्माणकर्ता एंजेसी व निगरानी करने वाले अधिकारी ने 9 लाख रुपए में बनने वाले इस सरकारी भवन गुणवत्ताहीन निर्माण कर किस तरह लाभ कमाया है। भवन में अभी भी टाइल्स,और लाईट का कार्य अधूरा पड़ा हुआ है।पीछे प्रसाधन कक्ष का सेप्टी टैंक का तो पता ही नही, बाहरी व अंदरुनी हिस्से पर लंबी दरारें पड़ चुकी हैं और अर्सा पहले ही इसकी सीसी जारी कर दी गई है।
15 गुणा में 20 में खेल मैदान
शिकायतकर्ताओं ने बताया कि गांव में अन्य स्थान होने के बावजूद मनमानी करते हुए पंचायत के सचिव व उपयंत्री ने विद्यालय के समीप स्थित 15 गुणा 20 मीटर के जगह पर खेल मैदान बना दिया है, जबकि खेल मैदान के लिए 40 गुणा 60 मीटर की आवश्यकता होती है, यही नहीं खेल मैदान बनाने के लिए तकनीकी स्वीकृति देने वाले उपयंत्री ने स्थल का निरीक्षण ही नहीं किया, उसके द्वारा जिस संकुचित स्थान पर खेल मैदान सिर्फ भ्रष्टाचार की नीयत से बनवाया जा रहा है, वहां मैदान के बीच में ही हैंण्ड पंप लगा हुआ है, सोचनीय पहलू यह है कि मैदान के बीच में हैण्ड पंप लगा हो और वहां खेल कैसे संपन्न होगा।
अधूरा शांतिधाम व सीसी सड़क
शिकायत में यह भी उल्लेख किया गया कि शांतिधाम का कार्य पूरा नहीं और उसकी उपयंत्री हेमंत पटले द्वारा सीसी जारी कर दी गई, मामले की जब शिकायत की गई तो बीते एक-दो दिनों से उपयंत्री यहां के चक्कर लगा रहे हैं और गुनाह छुपाने के लिए अधूरे कार्याे को पूरा करवाने में लगे हैं, वहीं गांव में ही जयसिंह के घर से मेन रोड तक बनने वाली सीसी सड़क का कार्य लगभग 10 महीनों से अधूरा पड़ा है, जो केवल इनकी आपसी लड़ाई के कारण रूका है। निर्माण पूरा न होने से आवागमन में परेशानी हो रही है।
इनका कहना है…
सामुदायिक भवन मेरे समय का नहीं है, शांतिधाम का काम मैनें पूरा करने के बाद सीसी जारी की है, वहीं सड़क अधूरी जरूर है, लेकिन इस संबंध में सरपंच व सचिव ही कारण बता सकते हैं।
हेमंत पटले
उपयंत्री
जनपद पंचायत, बुढ़ार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *