अपनी मांगों को लेकर किसान बैठे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

( +7745915174 Uday Singh Somvanshi)

अपनी मांगों को लेकर किसान बैठे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

  • जिम्मेदार अधिकारी किसानों से समय पर समय मांग रहे हैं, महुरा और डगडोवा के किसान है परेशान

नौरोजाबाद. एसईसीएल कंपनी ने किसानों की जमीन तो ले ली है लेकिन अभी तक इन्हें नौकरी नहीं मिली है! बीते माह से कई बार जिम्मेदार अधिकारियों से मिलकर इन ग्रामीणों ने अपनी समस्या बता चुके हैं फिर भी अधिकारियों की उदासीनता के कारण किसान अभी भी परेशान है! सोमवार से महुरा और डगडोवा कि किसान अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे हुए हैं! यह हड़ताल विंध्या कालरी गेट पर आयोजित की जा रही है! जानकारी के अनुसार कुछ लोगों की जॉइनिंग हो चुकी है ! केवल उनका मेडिकल बचा हुआ है ! 26 लोगों का अभी तक कंपनी की ओर से कोई भी दस्तावेज हमारे पास नहीं मिले हैं! अफसर कई बार हम लोगों को दिलासा देकर यहां से चले जाते हैं! सोमवार को ही विंध्या के जिम्मेदार अधिकारियों ने फिर से हमसे 4 माह का समय मांग रहे हैं! किसानों का कहना है कि इस बार हम नौकरी लेकर ही रहेंगे नहीं तो हम हड़ताल पर ही बैठे रहेंगे! यह जानकारी सुरेंद्र सिंह उर्फ लल्लू सिंह ने दी है! प्रेम लाल सिंह, मोले सिंह, भोला सिंह, मानिक लाल, अशोक सिंह, सतेंद्र सोनी, रामप्रसाद, ईश्वर दिन नापित, जगतपाल सिंह, इंद्र पाल सिंह, पहलाद सिंह हड़ताल में शामिल है!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अपनी मांगों को लेकर किसान बैठे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

( +7745915174 Uday Singh Somvanshi)

अपनी मांगों को लेकर किसान बैठे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

  • जिम्मेदार अधिकारी किसानों से समय पर समय मांग रहे हैं, महुरा और डगडोवा के किसान है परेशान

नौरोजाबाद. एसईसीएल कंपनी ने किसानों की जमीन तो ले ली है लेकिन अभी तक इन्हें नौकरी नहीं मिली है! बीते माह से कई बार जिम्मेदार अधिकारियों से मिलकर इन ग्रामीणों ने अपनी समस्या बता चुके हैं फिर भी अधिकारियों की उदासीनता के कारण किसान अभी भी परेशान है! सोमवार से महुरा और डगडोवा कि किसान अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे हुए हैं! यह हड़ताल विंध्या कालरी गेट पर आयोजित की जा रही है! जानकारी के अनुसार कुछ लोगों की जॉइनिंग हो चुकी है ! केवल उनका मेडिकल बचा हुआ है ! 26 लोगों का अभी तक कंपनी की ओर से कोई भी दस्तावेज हमारे पास नहीं मिले हैं! अफसर कई बार हम लोगों को दिलासा देकर यहां से चले जाते हैं! सोमवार को ही विंध्या के जिम्मेदार अधिकारियों ने फिर से हमसे 4 माह का समय मांग रहे हैं! किसानों का कहना है कि इस बार हम नौकरी लेकर ही रहेंगे नहीं तो हम हड़ताल पर ही बैठे रहेंगे! यह जानकारी सुरेंद्र सिंह उर्फ लल्लू सिंह ने दी है! प्रेम लाल सिंह, मोले सिंह, भोला सिंह, मानिक लाल, अशोक सिंह, सतेंद्र सोनी, रामप्रसाद, ईश्वर दिन नापित, जगतपाल सिंह, इंद्र पाल सिंह, पहलाद सिंह हड़ताल में शामिल है!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *