उडऩदस्ता प्रभारी की लापरवाही से टूटा आरटीओ कार्यालय का गेट

राजस्व वसूलने की जगह जुगाड़ बनाने में जुटे प्रभारी
वाहन में साहब के साथ मौजूद रहते हैं कटर

(Amit Dubey-8818814739)
उमरिया। परिवहन विभाग ने अनूपपुर, उमरिया, शहडोल और डिण्डौरी में राजस्व की वसूली के लिए संभागीय उडऩदस्ता की तैनातगी की है, ताकि शासन को अधिक से अधिक राजस्व मिल सके और लक्ष्य की पूर्ति हो जाये, लेकिन जिस अधिकारी को जिम्मा सौंपा गया है, वह राजस्व वसूली को छोड़कर जुगाड़ बनाने में ज्यादा जोर दे रहा है। राखड़ से लदे ट्रेलर को जुगाड़ न बनने पर पकड़ा गया और उसे परिवहन कार्यालय लाया गया, प्रभारी की लापरवाही से वाहन ने कार्यालय का लाखों रूपये का गेट तोड़ दिया।
ट्रक ने तोड़ा गेट
संभागीय उडऩ दस्ता प्रभारी आर.पी. सिंह सोमवार को जिले में वाहनों की जांच कर रहे थे, इस दौरान उन्होंने सिंह ट्रांसपोर्ट के राखड़ से लदे ट्रेलर को पकड़ा, सिस्टम सेट न होने के चलते वाहन को कार्यवाही के लिए परिवहन कार्यालय लाया गया, जहां पर प्रभारी ने जबरजस्ती वाहन को कार्यालय के गेट के अंदर जाने को कहा, जिससे लाखों रूपये का गेट टूटकर क्षतिग्रस्त हो गया।
कौन भरेगा हर्जाना
इस कारगुजारी से शासन के द्वारा निर्माण कराये गये 4 लाख रूपये का गेट पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया, जब से कथित अधिकारी की तैनातगी की गई है, यह आंकड़े सामने नहीं आये कि कितना राजस्व वसूलकर शासन के खजाने में जमा किया गया, सूत्र बताते हैं कि जुगाड़ बनाने के फेर में ही कार्यवाहियां चारों जिलों में की जा रही हैं। शासन को राजस्व तो मिल नहीं रहा, बल्कि शासकीय संपत्ति का नुकसान जरूर साहब ने करा दिया, सवाल यह है कि इस क्षति की पूर्ति क्या साहब करेंगे, या वाहन मालिक को जुर्माना भरना पड़ेगा।
साहब के साथ कटरों का डेरा
परिवहन विभाग में अमले की कमी किसी से छुपी नहीं हैं, बताया गया है कि साहब के साथ एक आरक्षक तैनात किया गया है, लेकिन साहब जिस वाहन से जांच करते हैं, उसमें निजी व्यक्तियों को उन्होंने तैनात कर रखा है, जो कि उनके लिए उगाही और वसूली का काम करते हैं। चर्चा यह भी है कि साहब जिस भी जिले में जाते हैं, वहां पर अपने आपको संभाग का परिवहन विभाग का सबसे बड़ा अधिकारी बताकर धौंस दिखाते हैं और उसी के बल पर कटर उगाही करते हैं।
इनका कहना है…
वाहन चालक की लापरवाही से गेट टूटा है, जिसका जुर्माना भी उसी के द्वारा भरा जायेगा। बाकी विषयों पर चर्चा कल हो जायेगी।
आर.पी. सिंह
संभागीय उडऩ दस्ता प्रभारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed