ओरियंट पेपर मिल को राष्ट्रीय जल पुरूस्कार

सर्वश्रेष्ठ बृहद उद्योग श्रेणी में दूसरा स्थान

शुभम तिवारी+91 78793 08359
शहडोल। एशिया के दूसरे सबसे बड़े कागज कारखाने ओरियंट पेपर मिल अमलाई को जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्रालय भारत सरकार के द्वारा राष्ट्रीय जल पुरूस्कार 2018 में जल संरक्षण/ प्रबंधन के क्षेत्र उत्कृष्ट कार्य करने के लिए सर्वश्रेष्ठ बृहद उद्योग श्रेणी में ओपीएम को द्वितीय पुरूस्कार से नवाजा गया है। पेपर मिल ने एक बार फिर पूरे देश भर के बृहद उद्योगों में अपना डंका बजाते हुए राष्ट्रीय जल पुरूस्कार हासिल किया है, गौरतलब है कि पेपर मिल को राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण अभियान में बेहतर कार्य करने के लिए ऊर्जा संरक्षण पुरूस्कार से भी केन्द्र सरकार द्वारा पुरूस्कृत किया गया था।
मिला दूसरा स्थान
जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा 25 फरवरी को नई दिल्ली में आयोजित समारोह में केन्द्रीय जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने देश भर के सर्वश्रेष्ठ बृहद उद्योगों की श्रेणी में जल संरक्षण और प्रबंधन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने पर दूसरे पुरूस्कार से नवाजा।
डेढ़ लाख का नगद पुरूस्कार
आयोजित समारोह में केन्द्रीय मंत्री के द्वारा ओरियंट पेपर मिल अमलाई को प्रशस्ती पत्र, ट्राफी और डेढ़ लाख रूपये के नगद पुरूस्कार देकर पुरूस्कृत किया, ओपीएम के कार्यपालन अधिकारी अजय गुप्ता की अगुवाई में पेपर इंड्रस्टी को यह पहली बार प्राप्त हुआ, जिसे डॉक्टर वीरेन्द्र द्विवेदी, उपप्रबंधक पर्यावरण संजीव जैन, विभागध्यक्ष क्वालिटी व अनुसंधान विभाग के द्वारा प्राप्त किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.