कल्पना चावला विज्ञान क्लब, शासकीय हाई स्कूल पुलिस लाइन के  छात्रों ने समन्वयक संतोष कुमार मिश्रा के साथ देखे सौरमंडल के ग्रह

0
144

कल्पना चावला विज्ञान क्लब, शासकीय हाई स्कूल पुलिस लाइन शहडोल के  छात्रों ने समन्वयक संतोष कुमार मिश्रा के साथ देखे ग्रह और खगोल विज्ञान के रहस्यों को समझा

शिरीष नंदन श्रीवास्तव 9407070665

शहडोल। खगोलीय घटना शुक्र एवम बुध संयुग्मन (कंजक्शन) प्रायः बच्चे समझते हैं कि हम अन्य ग्रहों को नहीं देख सकते हैं लेकिन ऐसा नहीं है | हम अन्य ग्रहों को भी देख सकते हैं, बस वो छोटे दिखाई देंगे | इस माह एक विशेष खगोलीय घटना शुक्र एवम बुध संयुग्मन दिखाई दे रही है | इस खगोलीय घटना के सम्बन्ध में कल्पना चावला विज्ञान क्लब, शासकीय हाई स्कूल पुलिस लाइन शहडोल के समन्वयक संतोष कुमार मिश्रा के द्वारा ऑनलाइन तरीके से, विभिन्न सोशल मीडिया के माध्यम से छात्रों को जागरूक किया गया एवं छात्रों ने शाम में इस खगोलीय घटना को देखा | बिना टेलिस्कोप की मदद के शुक्र एवं बुध ग्रह को बहुत से लोगों ने देखा | इस घटना को देखने के लिए गूगल स्काई मैप का भी छात्रों ने उपयोग किया |

समन्वयक संतोष कुमार मिश्रा ने बताया कि  इस खगोलीय घटना को हमें बच्चों को अवश्य दिखाना चाहिए | बच्चे अपने घर से ही इस खगोलीय घटना को देख सकते हैं | दिनांक 21 मई से 25 मई 2020 तक सूर्यास्त के पश्चात पश्चिम दिशा मे शुक्र ग्रह एवम बुध ग्रह पास पास दिखाई दे रहा है | 21 एवम 22 मई को दोनों ग्रह पश्चिम दिशा मे एक साथ दिखाई दिए एवम 23 से 25 मई तक यह दोनों ग्रह चाँद के आस पास पश्चिम दिशा मे दिखाई देंगे |
शुक्र ग्रह को पहचाने कैसे –

क्लब समन्वयक संतोष मिश्रा ने बताया कि अभी ग्रीष्म ऋतु के कुछ महीनो से पश्चिम दिशा में शाम के समय से लगभग 8:30 तक सबसे चमकीला तारे जैसा दिखाई देता है | पहली नजर मे ऐसा लगता है कि वह एक तारा है ,लेकिन आप इसे ध्यान से देखेंगे तो पाएंगे की यह सभी तारो से चमकदार तो दिखाई दे रहा है लेकिन यह अन्य तारो की भांति टिमटिमाता हुआ नहीं दिखाई देता है, वास्तव में यह तारा नहीं, शुक्र ग्रह है | इसे भोर का तारा भी कहते है, जो हमारे सौर मण्डल का दूसरे नंबर का ग्रह है | यह हमारे सौर मण्डल के बाकी सभी ग्रहो से सबसे ज्यादा चमकीला ग्रह है |

तारे टिमटिमाते हैं जबकि ग्रह नहीं –

श्री मिश्रा ने बताया की तारे टिमटिमाते हैं जबकि ग्रह नहीं टिमटिमाते हैं उनकी चमक एक जैसी ही रहती हैं | इस आधार पर हम ग्रहों एवं तारों को पहचान सकते हैं |
बुध ग्रह को कैसे पहचाने –

यदि आपने शुक्र गृह को पहचानना सीख लिया तो आप 21 मई से 25 मई तक शुक्र गृह के बिलकुल पास एक तारे जैसा हल्का सा डॉट दिखाई देता है ये भी हल्की रोशनी वाला तारे जैसा दिखाई देता है लेकिन इसे ध्यान से देखेंगे तो यह भी टिमटिमाते हुए नहीं दिखाई देगा | वास्तव में यह बुध ग्रह है | यह हमारे सौर मण्डल का पहले नंबर का ग्रह है, जो सूर्य के सबसे पास है|
वृहस्पति,शनि एवं मंगल ग्रह को भी देख सकते हैं –

शिक्षक  संतोष मिश्रा ने बताया कि प्ले स्टोर से “गूगल स्काई मैप” एप्प डाउनलोड कर हम विभिन्न ग्रहों की स्थिति दिशा के अनुसार देख सकते हैं एवं वृहस्पति,शनि एवं मंगल ग्रह को भी समयानुसार देख सकते हैं | इसके अतिरिक अन्य आकाशीय पिंडों के सम्बन्ध में भी जानकारी एवं उनकी लोकेशन के बारे में जानकारी प्राप्त की जा सकती हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here