कस्तूरबा गांधी बालिका छात्रावास पयारी का निरीक्षण

कमिश्नर ने छात्रावास वार्डन को तत्काल हटाने के दिये निर्देश

(सुधीर शर्मा-9754669649)
शहडोल। कमिश्नर शोभित जैन ने गुरूवार को अनूपपुर जिले पयारी में संचालित सर्व शिक्षा अभियान द्वारा कस्तूरबा गांधी बालिका छात्रावास पयारी क्रमांक -1 का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान 100 सीट के छात्रावास में 15 छात्रायें उपस्थित पाई गईं, छात्रावास की वार्डन श्रीमती शशिप्रधान अनुपस्थित पाई गईं, सहायक वार्डन श्रीमती माया शर्मा ने बताया कि वार्डन प्रशिक्षण में गई हैं। छात्रावास में पेयजल के आरओ बंद पाया गया तथा चौकीदार भी अनुपस्थित पाया गया। सहायक वार्डन ने बताया कि शौचालय की साफ-सफाई हेतु सप्ताह में दो दिन स्वीपर आता है, छात्रावास के अन्दर शौचालय आदि में साफ-सफाई का काफी अभाव देखने को मिला। छात्रावास भवन की पुताई भी नहीं कराई जानी पाई गई, छात्रावास की छात्राओं को नाश्ते में भीगा चना दिया गया था जबकि मीनू में सत्तू, पोहा व एक फल देना था।
मीनू के अनुसार नहीं दिया जा रहा नाश्ता
छात्राओं ने बताया कि जहां स्कूल में पढऩे जाते है, वहां से खाना खाकर आये हैं, जबकि दोपहर का भोजन मीनू के अनुसार रोटी, राजमा व एक गिलास मठा देना था, भोजन कक्ष में रोशनी का पर्याप्त अभाव पाया गया, किचन में सड़े हुये टमाटर पाये गये तथा अन्य खराब सब्जियां भी अस्त व्यस्त रखी थी, जिन्हें देखकर कमिश्नर ने काफी नाराजगी व्यक्त की। छात्रायें छात्रावास के बाहर हैण्डपम्प से पानी लाकर उपयोग करना पाया गया। छात्राओं के शयन कक्ष के नर्मदा कक्ष में 24 बच्चों के बीच एक सीएफएल तथा चार पंखों में दो बंद और दो चालू, इसी प्रकार चम्बल कक्ष के कई बेड़ों में चादर का अभाव एवं दो सीएफएल बल्ब चालू तथा ट्यूबलाईट बंद पाई गई। इसी तरह कक्ष क्रमांक क्षिप्रा हाउस में दो पंखे खराब एवं दो पंखे सही, दो सीएफएल खराब पाई गई, शयन कक्षों में रोशनी का पर्याप्त अभाव पाया गया तथा अव्यवस्थाओं का आलम दिखा। उक्त व्यवस्थाओं को देख कमिश्नर ने हास्टल वार्डन को तत्काल हटाने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.