कोयलांचल में धड़ल्ले से चल रहा कबाड़ का कारोबार

Ajay Namdev- 7610528622

जमुना। कोयलांचल नगरी के भालूमाडा से कोतमा मुख्यमार्ग पर संचालित इस अवैध कारोबार की खबर पुलिस से लेकर हर आम और खास को है सुबे के नए मुखिया ने जीरो टारलेस की बातें भी वर्दी धारियों के सामने खोखली साबित हो रही हैं। करीब एक दशक से कोयलांचल नगरी जमुना कोतमा क्षेत्र से होकर गुजरने वाले भालूमाडा मार्ग पर एक युवक द्वारा टिन प्लास्टिक और रद्दी के नाम पर लाइसेंस लेकर कबाड़ खरीदने और बेचने का काम किया जा रहा है। ऊपर से साफ सुथरे दिखने वाले इस कारोबार के आड़ में क्षेत्र की कोल माइंस में डकैती की तर्ज पर लोहा और जो कुछ भी मिल जाए उसे रात के अंधेरे में निकालने और बेचने का काम बदस्तूर जारी है। बीते 1 माह के दौरान इस कारोबार में गुणात्मक वृद्धि दर्ज की गई है, क्षेत्र की खुली व बंद कोयला खदाने ही नहीं बल्कि दूसरे थाना क्षेत्रों के कोयला खदानों को भी यहां से निशाना बनाया जा रहा है और बेरोजगार युवाओं की टोली बनाकर उन्हें हथियार से लैस कर खदानों में उतारा जाता है। वहीं दूसरी तरफ जब कोल माइंस द्वारा ऐसी शिकायतें थाने में पहुंचती हैं तो पुलिस द्वारा बिल आदि मांगे जाते हैं।
खुलेआम मासिक नजराने के दावे
बीते कई वर्षों से अवैध कबाड़ के मुखिया द्वारा स्थानीय पुलिस स्टाफ को मासिक नजराना और उसके एवज में खुलेआम काम करने के दावे किए जाते रहे हैं लेकिन जब 15 सालों की सरकार चली गई और नई सरकार के मुखिया ने जीरो टाल रेस की घोषणा कर दी तो सरकार से मोटा वेतन देने वाले प्रभारी और उनके मातहत आखिर कब तक कथित कबाड़ी के मासिक नजराना लेकर सरकार की जगह कबाड़ी को प्रश्रय देते रहेंगे।
अपराधों का कारण है कारोबार
कोयलांचल में अन्य क्षेत्रों की तुलना में अपराध अधिक होने का मुख्य कारण कथित कबाड़ी का यह ठीहा और ऐसे ही अन्य संगठित अपराधी गिरोह हैं जो स्थानीय युवाओं बेरोजगारों को कुछ घंटों की मेहनत की एवज में मोटी रकम देते हैं और इससे युवा चोरी डकैती जैसे शॉर्टकट रास्ता को अपनाने लगता है और जब जब उसका खदानों या अन्य जगहों पर चोरी का जुगाड़ नहीं लगता है तो वह शार्टकट के फेर में राजनी लूटपाट जैसे अपराधों को कार्य करता है।
आम और खास निशाने पर
कोतमा मुख्य मार्ग में स्थित कबाड़ के ठीहे के संचालक द्वारा पूर्व के वर्षों में कालरी की संपत्ति लूटी जाती थी लेकिन अब इसकी नजर नगर पालिका की संपत्ति पर भी पड़ रही हैं जिस मार्ग पर दुकान स्थित है वहां से रोजाना पुलिस और हंड्रेड डायल की गाड़ी कई चक्कर लगाती है, लेकिन सब महाभारत के धृतराष्ट्र की तरह गलत होता देख चुप हैं।
इनका कहना है-
जमुना बंद पड़ी ओसीएम से कबाड़ की चोरी हो रही है तो उसका मुख्य कारण यह है कि कालरी में जो प्राइवेट सुरक्षा गार्ड लगते थे वह इस समय बंद हो गया है फिर भी हम पुलिस की रात्रि पेट्रोलिंग उक्त जगह पर करेंगे।
मनोज दीक्षित
थाना प्रभारी भालूमाडा


जमुना ओसीएम से अगर कबाड़ की चोरी हो रही है तो इसकी जानकारी आप पहले कालरी वालों को दें। उसकी सुरक्षा करना उनका काम है और वह नहीं कर पा रहे हैं तो कबाड़ को थाना में जमा करा दे फिर भी हम रात्रि में उस जगह पर पुलिस की पेट्रोलिंग कराएंगे। चोरी किसी कीमत पर नहीं होने दी जाएगी।
आरएन प्रसाद
एसडीओपी कोतमा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *