कोरोना से 3 महीने में 1 मौत हुई तो न्यूज़ीलैंड में ब्रेकिंग न्यूज बन गई, और भारत में हर दिन1000 मर रहे हैं कोई खबर नहीं।

दिल्ली । पूरी दुनिया मौजूद वक्त में कोरोना वायरस के कहर से जूझ रही है। हर रोज कोरोना संक्रमित मरीजों की लगातार बढ़ती संख्या सब के माथे पर चिंता की लकीर खीच रही है

जहाँ एक ओर भारत में तेजी से फैलते कोरोना संक्रमण के कारण बढ़ते मरीजो के चलते दूसरे नंबर पर आने वाला है। वहीँ न्यूजीलैंड में कोरोना वायरस के कारण पिछले तीन महीने में पहली मौत दर्ज की गई है।

3 महीने से ज्यादा का समय गुजर जाने के बाद न्यूजीलैंड में कोरोना वायरस की वजह से पहली मौत का मामला सामने आया है। इस वक्त न्यूजीलैंड में 112 एक्टिव कोरोना वायरस के पीड़ित मरीज मौजूद है। अब तक न्यूजीलैंड में 22 लोग कोरोना से मर चुके हैं।

वहीं बात की जाए भारत की तो आज कोरोना वायरस से पीडितो के आंकड़े 40 लाख के करीब जा चुके हैं। देश में एक दिन के कोरोना के 80000 से ज्यादा मामले सामने आए हैं।

दुनिया में अब हर रोज सबसे ज्यादा कोरोना के केस भारत में ही रिकॉर्ड किए जा रहे हैं। अगर इसी रफ्तार से कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती रही तो बहुत जल्द ही भारत दुनिया में संक्रिमतों के मामले में शिखर पर होगा।

ध्यान देने वाली बात है कि देश की मेन स्ट्रीम मीडिया के लिए इस वक्त कोरोना वायरस की खबर दिखाने से ज्यादा सुशांत को कवर किया जा रहा है। देश के हर न्यूज़ चैनल पर इस वक्त सुशांत का नाम ही सुनाई पड़ रहा है। करीब तीन महीने पहले हुई सुशांत की मौत की खबर की परते उखाडने में देश की मेन स्ट्रीम मीडिया इतनी मशगूल हो गई है की देश के 13 रास्ट्रपति भारत रत्न श्री प्रणब मुखर्जी जी के स्वर्गवाश एव रसातल में गोते लगा रही जीडीपी की खबर कहीं नीचे बहुत नीचे दब कर रह गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *