गोहपारू में चोरी की बैट्रियों सहित पकड़ाया नामी बदमाश

कार्यवाही की जगह घंटों जांच में ही लगी रही पुलिस खुद कटघरे में

(अमित दुबे-8818814739)
शहडोल। सोमवार की सुबह गोहपारू पुलिस के द्वारा क्षेत्र में लंबे अर्से से कबाड़ चोरी से जुड़े झल्लू सेानी नामक बदमाश को गिरफ्तार किया, पुलिस ने आरोपी के पास से विभिन्न टावरों से चोरी की गई बैट्रियां भी जब्त की, लेकिन पुलिस ने मामले को एफआईआर तक पहुंचाने में सुबह से शाम कर दी, जिससे चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया, झल्लू मूलत: अनूपपुर जिले के कोतमा क्षेत्र का रहने वाला है और कबाड़ चोरी और ऐसे ही अन्य छोटे-मोटे अपराधों की लंबी सूची झल्लू के नाम पर हैं, शहडोल जिले के कोतमा विकास खण्ड से लगे ग्रामों में झल्लू के द्वारा ऐसी घटनाएं कारित करने की अर्से से खबर मिल रही थी। जिसके बाद पुलिस ने मुखबिरी तंत्र के माध्यम से उक्त कार्यवाही की।
शहडोल के रहीम और कोयलांचल से जुड़े तार
पुलिस द्वारा झल्लू को पकड़कर थाने लाने और चोरी का मशरूका जब्त करने के बाद उससे व्यापक पूछताछ किये जाने की भी खबर है, सूत्रों पर यकीन करें तो पूछताछ के दौरान झल्लू ने शहडोल के रहीम कबाड़ी सहित कुछ अन्य लोगों के नाम भी पुलिस को बताये हैं, जिसके बाद पुलिस ने रहीम को तलब भी किया और अन्य स्थानों पर पुलिस पड़ताल भी कर रही है। शायद इसी वजह से पुलिस ने घटना के 10 घंटे बाद भी कार्यवाही को सावर्जनिक नहीं किया।
कटघरे में वर्दीधारी भी
पुलिस के द्वारा कार्यवाही सार्वजनिक न किये जाने के कारण पुलिस खुद कटघरे में नजर आने लगी है, आरोप हैं कि पुलिस ने झल्लू से जुड़े स्क्रैप के बड़े कारोबारी रहीम का नाम सामने आने के बाद भी उसे कार्यवाही में नहीं लिया और संभवत: रहीम के साथ मैनेजमेंट के फेर में ही कोई कार्यवाही सार्वजनिक नहीं हो पाई। यह भी खबरें आईं कि पूछताछ के दौरान झल्लू ने पुलिस के समक्ष और भी आरोप कबूले हैं, जिसमें अन्य कारोबारी जो चोरी का स्क्रैप खरीदने और बेचने में शामिल थे, उनके भी नाम विवेचना में सामने आये हैं।
हमने खुद करवाई कार्यवाही
गोहपारू में झल्लू सोनी के पकड़े जाने और इस मामले में स्क्रैप डीलर रहीम का नाम आने के बाद जब उससे चर्चा की गई तो उसने बड़ी बेबाकी से इस बात को स्वीकारा कि झल्लू लंबे अर्से शहडोल और इसके आस-पास चोरी की घटनाएं कारित कर रहा था, जिससे हम और अन्य स्क्रैप व्यवसायी खासे परेशान थे, रहीम ने अपनी सफाई देते हुए बताया कि हम कई वर्षाे से स्क्रैप का कारोबार कर रहे हैं, लेकिन चोरी का स्क्रैप खरीदना और चोरी करवाना हमारे व्यवसाय का हिस्सा नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *