चोरी और लूट की घटनाओं पर नहीं लग रहा अंकुश

पुलिस की कार्यप्रणाली पर प्रश्नचिन्ह

(सतीश तिवारी++91 94243 33370)
ब्यौहारी। थाना क्षेत्र अंतर्गत दिनों दिन बढ़ रही चोरी की घटनाओं के चलते लोगों का जीवन असुरक्षित सा हो गया है, अपराधी खुलेआम घटनाओं को अंजाम देकर पुलिस को चुनौती दे रहे हैं, चोरी, लूट, राहजनी और अवैध उत्खनन, प्रतिबंधित गांजा सहित देह व्यापार का कारोबार अमर बेल की तरह फैला है, गांव-गांव और गली-गली में गांजा शराब खुलेआम बिक रही है, जगह-जगह जुआं और सट्टा की चौपाल लगी रहती है और यहाँ पदस्थ पुलिस अमला सब कुछ जानते हुए भी अनजान बना हुआ है और आमजन असुरक्षा को लेकर बेहद परेशान हैं। थाना क्षेत्र की बदहाल कानून व्यवस्था और अवैध कारोबारियो से सांठगांठ के चलते पुलिस प्रशासन के कर्तव्य पालन पर सवालिया निशान लग रहा है।
बदहाल सुरक्षा व्यवस्था
थाना प्रभारी की पदस्थापना के बाद स्थानीय लोगों ने सोचा था कि बदहाल व्यवस्था में सुधार होगा, किन्तु बीते कई माह के कार्यकाल एवं उनकी गतिविधियों से ऐसा प्रतीत होता है कि यहाँ की बदहाल व्यवस्था सुधारने के बजाय वे स्वयं यहां पर चल रही व्यवस्था में शामिल होकर समय काटना ज्यादा मुनासिब मान रहे हैं। उसी का परिणाम है कि यहां अपराधियों के हौसले बुलंद हैं, साथ ही क्षेत्र का यह दुर्भाग्य है कि विगत पांच वर्षो से इस क्षेत्र में विपक्ष को प्रतिनिधित्व मिला जब भाजपा की सरकार रही तब कांग्रेस का विधायक और जब कांग्रेस की सरकार बनी तब भाजपा का विधायक बना और उन्हे अपने बचाव का अच्छा मौका मिलता रहा कि हम तो विपक्ष में है हमारी कौन सुनता है।
गोपनीय कार्यवाही पर सवाल
इस समय निरंतर घटने वाली छोटी-बड़ी चोरी की घटनाओं के चलते पुलिस ने नगरीय क्षेत्र के दर्जनभर संदिग्ध लोगों की धरपकड़ कर पूछताछ की। धरपकड़ की कार्यवाही के दौरान पुलिस को एक संदिग्ध के घर की तलासी लेने पर चार पेटी नशे के रूप मे उपयोग की जाने वाली नशीली कफसिरप, कोरेक्स बरामद हुई। पुलिस कार्यवाही के नाम पर पिछले कई दिनों से कई संदिग्ध बदमाशों को पकड़कर थाने मे बैठाकर छोड़ देती है। यह क्रम कई दिनों से चालू है, लेकिन अभी तक किसी चोरी का खुलासा नही किया, पुलिस की गोपनीय कार्यवाही सवाल खड़े किये गये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *