जमीरों को बेच किया गया गुप्त मतदान- आजाद बहादुर

0
228

शहडोल। नगर पालिका अध्यक्ष पद के लिए अविश्वास प्रस्ताव के संबंध में जिला कांग्रेस अध्यक्ष आजाद बहादुर सिंह ने बयान जारी करते हुए कहा कि नगर विकास के लिए अविश्वास प्रस्ताव में कई पार्षदों द्वारा एक मत से शपथ पत्र सौंपा गया था जिसमे भाजपा व निर्दलीय पार्षद भी सामिल थे, किंतु आज गुप्त मतदान में कुछ पार्षदों ने स्वयं के विकास को लेकर अपना जमीर बेच दिया।
आजाद ने कहा कि जबकि नगर का विकास कार्य पूरी तरह ठप पड़ा है।
नगर में कोई विकास कार्य न होने से नगर पालिका अध्यक्ष के खिलाफ एक मत से 31 पार्षदों द्वारा अविष्वास प्रस्ताव लाया गया था।
जिसके तहत आज गुप्त मतदान की प्रक्रिया पूरी हुई।
जिसमें कुछ पार्षदों ने नगर विकास को दरकिनार करते हुए स्वयं के विकास के लिए अपने जनप्रतिनिधि धर्म का पालन न करते हुए अपने जमीर को को बेच दिया।
इस पूरी प्रक्रिया में सहयोग प्रदान करने वाले सभी के प्रति जिला कांग्रेस अध्यक्ष आजाद बहादुर सिह आभार व्यक्त किया।साथ ही उन्होंने काँग्रेश के निष्ठावान पार्षदों के प्रति धन्यवाद दिया कहा कि काग्रेश के 13 पार्षदों ने अपनी ताकत दिखते हुये अपने साथ 21 पार्षदों को जोड़ा जिसके लिए वो बधाई के पात्र हैं वही इस दौरान आज मध्य प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री शहडोल संगठन प्रभारी कादिर सोनी अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के नियुक्त पर्यवेक्षक पंकज यादव ,रीवा जिला कांग्रेस के अध्यक्ष मंगू सिंह, जिला कांग्रेस अध्यक्ष बहादुर सिंह पूर्व विधयक कमला सिंह, जिला काग्रेश के कार्य वाहक अध्यक्ष महमूद अहमद, प्रदेश महामंत्री सुभाष गुप्ता, नीरज द्विवेदी, नगर पालिका उपाध्यक्ष कुलदीप निगम, नेता प्रतिपक्ष इसाक खान,अजय अवस्थी, प्रदेश महिला काग्रेश की उपाध्यक्ष सीमा सिंह, महिला कांग्रेस अध्यक्ष शिम्पी अग्रवाल, जिला काँग्रेस प्रवक्ता हुसैन अली, वरिष्ठ कांग्रेस नेता मोहम्मद यूसुफ,विनय सिह, सोहागपुर कांग्रेस अध्यक्ष राजेश सोंधिया कांग्रेस अध्यक्ष अनूप मिश्रा जिला कांग्रेस के महामंत्री शिव शंकर शुक्ला, हरि शंकर तिवारी, सहित अन्य मौजूद रहें।