जेंडर सेंसीटाईजेशन इन सोसायटी विषय पर विशेष कार्यशाला संपन्न

Ajay Namdev-7610528622

महिलाओं की पूर्ण सहभागिता सुनिश्चित करने हेतु जेंडर समानता अहम-पी.एस.उईके

अनूपपुर। शासन के जागरूक जनो के सतत रूप के प्रयास के फलस्वरूप आज महिलाओं की सामाजिक पारिवारिक राजनैतिक एवं आर्थिक परिप्रेक्ष्य में सहभागिता में वृद्धि हुई है। आज समाज में एक ऐसे सशक्त वर्ग कि उदय हो चुका है जो यह समझता है महिलाएं किसी भी कार्य को करने में पुरूषों से कम नही हैं। परंतु अभी भी समाज का एक वर्ग ऐसा है जो इस बात से अभी भी सरोकार नही रखता जो आज की वैश्विक दुनिया में चिंतनीय है। पुलिस उपमहानिरीक्षक शहडोल रेंज पी0एस0उईके स्वसहायता भवन में आयोजित जेंडर सेंसीटाईजेशन इन सोसायटी विषय पर आयोजित विशेष कार्यशाला में उपस्थिति युवतियों एवं छात्राओं को संबोधित कर रहे थे।
समाज को जागरूक होना होगा- पुलिस अधीक्षक
पुलिस अधीक्षक किरणलता केरकेट्टा ने बताया संवैधानिक प्रावधानो के साथ साथ कई विधिक प्रावधान है जो महिलाओं के अधिकारों की सुरक्षा करते हैं उन्हें प्रगति के अनुकूल अवसर उपलब्ध कराने हेतु शासन को संस्थानो को आमजनो को बाध्य करते हैं। उन्होंने कहा सही मायने में जेंडर समानता तब प्राप्त होगी जब समस्त समाज जागरूक होगा एवं इन प्रावधानो की आवश्यकता नगण्य हो जाएगी। ऐसी स्थिति में एक आदर्श समाज कि निर्माण होगा जहां समाज का हर व्यक्ति समाज के विकास में सहयोगी होगा भागीदार होगा।
विकास के पथ पर बढ़ते रहे आगे
कार्यशाला में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अलीराजपुर सीमा अलावा एवं मुंबई से आयी हुईं जेंडर समानता विषय विशेषज्ञ कुसुम त्रिपाठी द्वारा महिलाओं की सुरक्षा एवं समानता हेतु बने हुए विधिक प्रावधानो एवं अधिकारों की जानकारी दी गयी। उनके द्वारा महिलाओं को अपनी शक्ति पर भरोसा रख प्रगति के विकास के पथ में आगे बढ़ते रहने का आह्वान किया गया। इस दौरान स्वतंत्रता संग्राम में महिलाओं की सहभागिता से लेकर कला संस्कृति राजनीति शिक्षा विज्ञान खेलकूद एवं आर्थिक क्षेत्र समेत विभिन्न विधाओं में विदुषी एवं सफल महिलाओं की उपलब्धियों की जानकारी दी गयी एवं आगे बढऩे के लिए प्रेरित किया गया। इस दौरान महिला दुव्र्यापार के सम्बंध में जागरूक करते हुए सावधानियों की जानकारी देने के साथ अनैतिक व्यापार निवारण अधिनियम के प्रावधानो की जानकारी दी गयी।
सावधान रहे, सर्तक रहे- पंकज
उप निरीक्षक साइबर क्राइम जबलपुर पंकज साहू द्वारा वर्तमान समय में सोशल मीडिया के बढ़ते प्रयोग एवं विभिन्न अंतरणो में इंटरनेट की बढ़ती हुई उपस्थिति के सम्बंध में सावधानियों एवं सुरक्षा हेतु विधिक प्रावधानो की जानकारी दी गयी। उन्होंने बताया अपनी हर एक जानकारी अपनी उपस्थिति सोशल मीडिया के माध्यम से शेयर नही करें इसका उपयोग असामाजिक तत्वों द्वारा किया जा रहा है। कोई भी पोस्ट शेयर करते समय सावधानी रखें। अपने बैंकिंग पासवर्ड या पिन को अनजान व्यक्तियों से साझा न करें।
यह रहे उपस्थित
कार्यशाला में डीएफओ एम0एस0 भगडिय़ा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सरोधन सिंह, अपर कलेक्टर बी0डी0 सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन, सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास मंज़ुशा शर्मा के साथ कोतवाली प्रभारी प्रफुल्ल राय व यातायात प्रभारी बृहस्पति साकेत के साथ पुलिस स्टाफ व मीडिया कर्मी तथा बड़ी संख्या में तुलसी महाविद्यालय व मॉडल स्कूल के छात्र व शिक्षक एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *