टिकट बेचने का कारोबार करने वाला पकडाया

Ajay Namdev- 7610528622
स्लीपर तत्काल टिकट बनवाते हरिहर धराया

अनूपपुर। 28 मई को प्रभारी अगुशा/अनूपपुर अपने मातहत बल सदस्यों के साथ एवं पोस्ट प्रभारी निरीक्षक रेसुब/पोस्ट/मनेन्द्रगढ़ के बल सदस्यों के साथ संयुक्त रूप से मनेन्द्रगढ़ पी.आर.एस. में चेकिंग के दौरान समय लगभग 11.10 बजे एक व्यक्ति को स्लीपर तत्काल टिकट बनवाते पाया गया। संदेह आने पर पूछताछ करने पर अपना नाम हरिहर बेहरा वल्द स्व. एन.के. बेहरा उम्र 45 वर्ष निवासी वार्ड क्रमांक 5 मौहार पारा पानी टंकी के पास थाना मनेन्द्रगढ़ जिला कोरिया छत्तीसगढ़ का रहने वाला बताया। उसके पास रखे 2 नग स्लीपर तत्काल टिकट, 1 नग ए.सी. तत्काल टिकट, 1 नग कैन्सिल टिकट, 2 नग भरा हुआ आरक्षण मांग पत्र मिला। जिसके संबंध में पूछताछ करने पर उसने बताया कि कि वह तत्काल टिकट बनवाकर रोहित यादव बनारस का रहने वाला है को भेजता है एवं टिकट बनवाने बावत् आर्डर प्राप्त कर मेरे मोबाइल वॉटसअप के माध्यम से भेजता है। मैं तत्काल टिकट बनाकर महेन्द्रा बस मनेन्द्रगढ़ के कंडक्टरो के माध्यम से टिकट को बनारस भेजता हूं।
टिकट बेचने का कारोबार
हरिहर बेहरा द्वारा तत्काल टिकट बनवाने एवं उसे बेचने के संबंध में वैधानिक दस्तावेज व लाईसेंस की मांग करने पर दिखाने में असमर्थ रहा प्रत्येक व्यक्ति 400 रूपये टिकट किराये से अतिरिक्त कमीशन प्राप्त कर रोहित यादव बनारस के साथ मिलकर रेलवे टिकट का अवैध व्यापार करने का अपराध स्वीकार किया। तब उप निरीक्षक एस.के. नाग रेसुब/पोस्ट/मनेन्द्रगढ़ द्वारा मामला प्रथम दृश्टया रेलवे एक्ट की धारा 143 की अपराध पाकर आरोपी का बयान दर्ज कर आरोपी के कब्जे से उपरोक्त वर्णित कुल जप्त तत्काल टिकट 10 नग टिकट कुल कीमत 37870 रूपये है एवं 1 नग माइक्रोमैक्स कंपनी का फोन एवं नगद 2450 रूपये को मौके पर जप्त किया गया एवं आरोपी को मय जप्त शुदा संपत्ति के साथ रेसुब/पोस्ट/मनेन्द्रगढ़ लाया गया। आरोपी के विरूद्ध रेसुब/पोस्ट/मनेन्द्रगढ़ में 28 मई को धारा 143 रेलवे एक्ट के तहत मामला कायम किया गया।
इनकी रही भूमिका
उक्त कार्यवाही में मुख्य भूमिका रेलवे सुरक्षा बल अपराध गुप्तचर शाखा अनूपपुर के निरीक्षक आर.पी. सिंह, उपनिरीक्षक आर.एस. मिश्रा, प्रधान आरक्षक ए.सिंह, प्रधान आरक्षक एस.बी. प्रसाद, आरक्षक पी.के. मिश्रा एवं रेसुब/पोस्ट/मनेन्द्रगढ़ के पोस्ट प्रभारी निरीक्षक एस.आई. अनवर, उपनिरीक्षक एस.के. नाग एवं बल सदस्यों की रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *