ट्रेनो में चल रहा केक बेचने का कारोबार, जीआरपी व आरपीएफ का अभयदान, जिम्मेदार बेखबर

Ajay Namdev-7610528622

अनूपपुर। रेलखंड के माध्यम से व्यापार करना लोगो की आदत बन गयी है। ट्रैन में अपने क्षमता के विपरीत ओवर लोड सामान लेकर चलना वह बिना रसीद के ही अपने गतंव्य तक पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है। शहडोल-अंबिकापुर हो या फिर चंदिया-चिरमिरी में आज कई वर्षो से केक का व्यापार चल रहा है जो शहडोल से बुढार, अमलाई, अनूपपुर होकर कोतमा, बिजुरी की ओर सप्लाई धडल्ले से की जा रही है। आखिर एक व्यक्ति को केक के 50 से 100 बॉक्स ले जाने की अनुमति किसने दी। क्या शहडोल आरपीएफ को इसकी जानकारी नहीं जबकि शहडोल में धडल्ले से इसकी लोडिंग की जाती है। रेलवे पुलिस को जानकारी होने के बाद भी कार्यवाही न होने से यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि रेलवे पुलिस की मिलीभगत से यह कारोबार संचालित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.