तुलसी महाविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस पर कार्यक्रम संपन्न

Ajay Namdev-7610528622
अनूपपुर। 24 सितम्बर को हमारे देश के नीति निर्धारको तत्कालीन भारत सरकार ने युवाओं की सामाजिक भूमिका एवं राष्ट्रीय दायित्वों के संस्कार सुजन स्वावलम्ब सेवा एवं सुचिता का भाव बढाने युवाओं का शैक्षणिक संस्थाओं में सांगठनिक ढांचा बनाया गया जो मानव संसाधन मंत्रालय युवा कार्य खेल विभाग के तहत कार्य करता है राष्ट्रीय सेवा योजना अपनी स्थापना के पचासवे वर्ष का आयोजन कर रहा है इस तारतम्य में शासकीय तुलसी महाविद्यालय अनूपपुर में राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस का आयोजन डॉ. परमानंद तिवारी प्राचार्य की अध्यक्षता में किया गया। जिसमें कार्यक्रम अधिकारी डॉ. जे.के. संत ने राष्ट्रीय सेवा योजना के विविध क्रियाकलापों पर व्यापक जानकारी दी। प्राचार्य प्रो. तिवारी ने कहा कि स्वामी विवेकानंद जी हमारे प्रेरणा पुरूष है। जिन्होंने अपना ज्ञान और भारतीय संस्कृति का परचम दुनिया में फहराया। कार्यक्रम में अनुराधा तिवारी, संजना शर्मा, संतोषी राठौर एवं कई विद्यार्थियों ने अपनी बात रखी कार्यक्रम पूरी गरिमा के साथ संम्पन्न हुआ। जिसमें महाविद्यालय परिवार के लोग उपस्थित थे। राष्ट्रगान के साथ आयोजन सम्पन्न हुआ।
हमें आत्मचिन्तन की जरूरत- डॉ. परमानंद
शा0 तुलसी महाविद्यालय अनूपपुर में बच्चों के यौन शोषण को रोकने सम्बन्धी कानून एवं सामाजिक परिवेश, वर्तमान भौतिक संसाधनों की वृद्धि आभासी दुनिया से समस्याएं एवं मानवीय मूल्यों के विकास और संस्कारों की सुचिताजैसे अनेक तथ्यों पर चर्चा की गई। संस्था के प्रमुख डॉ. परमानंद तिवारी ने कहा कि हमारे परिवारों का पारम्परिक स्वरूप बदला है तथा दायित्व बोध कम हुआ है तथा मीडिया, वाट्टसएप एवं अन्य संचार माध्यमों पर अनियंत्रित सामग्री का विस्तार समस्याएं पैदा कर रहा है। अतएव हमें आत्मचिन्तन की जरूरत है जिससे अपराध रूके और हम सब इसे रोकने में मदद करें हम सुधरेगें युग सुधरेगा। इस अवसर पर संस्था से कई प्राध्यापकों डॉ0 जे0के0 संत, डॉ.तुलसी रानी, फरहानाज, आशीष गुप्ता, डॉ. तरन्नुम सरवत एवं संतोष सिंह, कमलभान सिंह कई छात्र-छात्राएं एवं एनएसएस के स्वंय सेवको की उपस्थिति रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed