नगरीय प्रशासन के तबादलों में हो रही अनदेखी

( अनिल लहंगीर+91 93295 37839)
बुढार। मध्य प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा आचार संहिता लगने के पहले पूरे मध्यप्रदेश के कई विभागों में तबादला धड़ाधड़ किया जा रहा हैं। जिससे प्रशासन एवं कर्मचारियों में हड़कंप मचा हुआ है आनन फानन में हो रहे तबादलों के चलते सीनियरिटी एवं जूनियर का भी कोई ख्याल नहीं किया जा रहा है। गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के कई जिलों में नगरी प्रशासन के द्वारा मुख्य नगर पालिका अधिकारी एवं मुख्य नगर परिषद अधिकारियों का तबादला किया गया है, लेकिन कुछ सीएमओ ने आरोप लगाते हुए कहा कि जो डायरेक्ट सीएमओ है उन्हें परिषद देकर संतुष्ट किया जा रहा है और जो प्रभारी सीएमओ है, उन्हें मनचाहे नगर पालिकाओं में रखा जा रहा है जिससे कर्मचारियों के मन में सरकार के प्रति मतभेद पैदा हो रहा है गौरतलब है कि मैहर में डोंगर परासिया को सीएमओ बनाया गया है जो एक टीचर है, साथ ही चपरासी को भी सीएमओ बनाया गया है। गौरतलब है कि एमपीपीएससी के अधिकार का हनन करते हुए सी ग्रेड को बड़े नगर पालिका दिए जा रहे हैं और बी ग्रेड को पालिका से परिषद में उठाकर अन्यत्र स्थानांतरण किया जा रहा है, साथ ही उन्हे असिस्टेंट कमिश्नर बनाया जा रहा है जो सरकार के तबादला नीति पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *