नगर प्रषासन ने मुहिम चलाकर हटाया अतिक्रमणअतिक्रमकों को दिया गया था नोटिस, वाषिंदे में हडक़म्प

Ajay Namdev- 7610528622

अनूपपुर। नगरपालिका के वार्ड क्रमांक11 में नगरपालिका प्रशासन द्वारा अत्रिक्रमणकारियों के द्वारा किये गये अतिक्रमण को हटाने की कार्यवाही रविवार से शुरू की गई। बताया गया कि शंकर मंदिर चौराहे से लेकर सिद्धबाबा मंदिर पंहुच मार्ग में निर्मित सडक के दोनों ओर स्थानीय वाशिन्दों व व्यापारियों द्वारा अतिक्रमण कर पक्के निर्माण करा लिये गये थे। यहां तक कि प्रशासन द्वारा निर्मित नाली को भी अतिक्रमण के चपेट में ले लिया गया था और नाली के उपर ही पक्के निर्माण करा लिये गये थे। नगरपालिका प्रशासन द्वारा ऐसे अतिक्रमण को जेसीबी के माध्यम से हटाया गया। प्रशासन द्वारा की जा रही कार्यवाही से अतिक्रमणकारियों में हडकंप व्याप्त है। नगर पालिका अनूपपुर में दिनोंदिन बढ़ रहे अतिक्रमण को हटाने के लिए प्रशासनिक अमले के द्वारा अतिशीघ्र जेसीबी मषीन चलाया गया। नगरपालिका के अंतर्गत वार्डो में भी नागरिकों द्वारा अतिक्रमण किया गया है। शंकर मंदिर से अनूपपुर बस्ती पहुंच मार्ग सहित बाजार क्षेत्र, अनूपपुर बस्ती, सब्जी मण्डी, स्टेशन पंहुच मार्ग,बस स्टैण्ड मोहल्ला, सामतपुर सहित अन्य वार्डो में अतिक्रमण किया गया है। प्रशासनिक कार्यवाही में डिप्टी कलेक्टर अमन मिश्रा, नगर प्रशासक ऋषि सिंघई, थाना प्रभारी प्रफुल्ल राय, नपा कर्मचारी रमेश नापित सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित रहे।सडक़ हो रहा था प्रभावितसिद्धबाबा मंदिर से एवं शंकर मंदिर सहित कई स्थानों में दुकानदार अपने दुकान का सेड बढ़ाकर सडक़ पर कब्जा किये है साथ ही आकर्षण साज-सज्जा करने के लिए अपने दुकानों का सामान बाहर सडक़ के किनारे एवं सडक़ों पर सजा रहे हैं, जिससे आवागमन प्रभावित है, सबसे ज्यादा अतिक्रमण शंकर मंदिर से लेकर सिद्धबाबा मंदिर के बीच फैला रखे है, जिसके पष्चात अतिक्रमण हटाया जा रहा है। व्यापारियो को दिया गया था नोटिससिद्धबाबा रोड में व्यापारियों के तानाशाही के कारण आए दिन जाम लगने की स्थिति बनी रहती थी, दुकानदारों को कई बार समझाइश नोटिस दी गई थी,लेकिन इसके बावजूद भी दुकानदार अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे थे। नगर परिषद सीएमओ ने जिन-जिन दुकानदारों नोटिस दिये गये थे, वह अतिशीघ्र अतिक्रमण हटाया गया। विवाद की स्थिति हुई पैदानगर प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाने के शुरूआत में एक तरफ से अतिक्रमण नहीं हटाया जा रहा था जिस व्यापारी के यहां पहले अतिक्रमण हटाने की कोशिश की गई थी तो व्यापारी द्वारा विवाद की स्थिति पैदा कर दिया और कहा कि पहले आपके द्वारा एक तरफ से अतिक्रमण हटाया जाये, इसके बाद मेरे यहां अतिक्रमण हटाना। जिसको नगर कर्मचारी और व्यापारी के बीच मामूली विवाद की स्थिति पैदा हो गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed