नशे के सौदागर के घर पर पुलिस का छापा

बड़ी मात्रा में गांजा बरामद

(अनिल साहू+91 70009 73175 )
उमरिया। पुलिस अधीक्षक की स्पेशल टीम ने नोरोजाबाद थाने से चंद कदम की दूरी पर देर रात करीब 9.30 बजे रेड के दौरान भारी मात्रा में गांजे की अवैध खेप पकड़ी है,बताया जाता है कि मुखबिर की सूचना पर आरोपी के घर छापामार कार्यवाही की गई है,जिस दौरान भारी मात्रा में अवैध गांजे की खेप जप्त की गई है। सूत्र बताते है कि आरोपी लम्बे समय से अवैध रूप से इस नशे के कारोबार में क्षेत्र में अपनी पैठ जमाया हुआ है,पूर्व में भी पुलिस ने कई बार छापेमारी के दौरान गांजे की अवैध खेप इसके पास से पकड़ी है।फिलहाल पुलिस इस मामले में अभी कुछ नही कह रही है,। रविवार की देर रात नोरोजाबाद थाना अंतर्गत स्पेशल टीम के द्वारा मारी गयी रेड में बड़ी मात्रा में अवैध गांजे की खेप जप्त की गई थी,इस मामले में पुलिस ने एक महिला समेत 5 आरोपियों के विरुद्ध प्रकरण पंजीबद्ध किया है।इस मामले में खास बात यह है कि पुलिस ने जिन आरोपियों को प्रकरण में आरोपी बनाया है,वे सभी एक ही परिवार के सदस्य है।
यह है मामला
इस संबंध में जानकारी देते हुए एसडीओपी अरविंद तिवारी ने बताया कि 12 मई को थाना प्रभारी नौरोजाबाद द्वारा जरिए आर0 दमोदर तिवारी के द्वारा सूचना मिली कि ओमप्रकाश गुप्ता निवासी बाजार पुरा अपनी पत्नी उमा गुप्ता एवं लडको तथा नौकर के साथ मिलकर अवैध मादक पदार्थ गांजा की बिक्री करने एवं अपने रहायसी मकान मे रखने, बिक्री करने की सूचना प्रापत होने पर ओम प्रकाश गुप्ता निवासी बाजारपुरा के रहायसी मकान में छापेमार कार्यवाही की गई। इस दौरान ओम प्रकाश गुप्ता पुलिस की घेराबंदी को देखते हुए अंधेरे का फायदा उठाते हुए मौके से फरार हो गया। घर पर उसकी पत्नी उमा गुप्ता लडक प्रिंट गुप्ता, अंशु गुप्ता , मन्नू उर्फ मनीराम यादव निवासी छांदा उपस्थित मिले। तत्पश्चात संदेही उमा गुप्ता पति ओम प्रकाश गुप्ता उम्र 40 वर्ष निवासी वार्ड क्रमांक 5 नौरोजाबाद घर मालकिन को मुखबिर की सूचना से अवगत कराते हुए कानूनी अधिकारो को बताया गया एवं मकान तलाशी पंचनामा तैयार कर तालाशी ली गई। तलाशी के दौरान पूर्व दक्षिण वाले कमरे के अंदर एक प्लास्टिक का पुराना इस्तामाली झोला जिसमें लाल रंग का बार्डर तथा हल्के रंग की वददी लगी है। जिसके अंदर मादक पदार्थ पाया गया। उक्त बरामद शुदा अवैध मादक पदार्थ गंाजा की पहचान सूंघ कर, जलाकर एवं अनुभव के आधार पर की गई। जो मादक पदार्थ गांजा झोले के अंदर चार प्लास्टिक के पालीथीन मे गांजा एक हरे रंग, एक मटमैले रंग, एक खाकी रंग में अलग अलग गांजा भरा गया। एक काले रंग की पालीथीन मे कागज से लिपटी हुई गांजा की 80पुडिया पाई गई। जिसका तौल कराते हुए पंचनामा तैयार कर आरोपी गण उमा गुप्ता, अंशू गुप्ता, मन्नू उर्फ मनीराम यादव की निशादेही मे प्राप्त शुदा पदार्थ गंाजा का समरस सउनि से कराया गया। कुल गांजा पांच किलो 500 ग्राम कीमत 27 हजार 500 रूपये होना पाया गया। प्राप्त शुदा समरस किए गए गंाजा मे से दो पैकेट पैकेट बतौर सेंपल निकाला जाकर अलग अलग सीलबंद किया गया। इसके साथ ही बरामद शुदा मादक पदार्थ गांजा आरोपियो के कब्जे से पेश करने पर बजह सबूत में अवैध मादक पदार्थ गांजा पांच किलो 300 ग्राम व सेंपल 100-100 ग्राम कुल वजनी पांच किलो 500 ग्राम कीमत 27 हजार 500 रूपये का जप्त कर सील बंद किया गया। तथा चार पालीथीन मे मिले 80 पुडिया जो अखबार के टुकडे मे मिला था जिसकी बिक्री कीमत 7210 रूपये थी को भी सील बंद किया गया।
आरोपियो को किया गया गिरफ्तार
प्रकरण सदर में अब तक की जुमला विवेचना की कार्यवाही से आरोपियान ओम प्रकाश गुप्ता पिता भोला गुप्ता, उमा पति ओमप्रकाश गुप्ता, प्रिंस पिता ओमप्रकाश गुप्ता, अंशू पिता ओमप्रकाश गुप्ता, चारो निवासी वार्ड नंबर पांच नौरोजाबाद एवं मन्नू उर्फ मनीराम यादव पिता मोतीलाल यादव निवासी छांदाखुर्द के विरूद्ध अपराध धारा 8/20 एनडीपीएस एक्ट क आपराध प्रथम दृष्टया घटित किया जाना प्रमाणित पाये जाने पर समक्ष गवाहान आरोपियान उमा गुप्ता, अंशू गुप्ता, मन्नू यादव , प्रिंस गुप्ता को गिरफ्तार बताते हुए समक्ष गवाहन के समक्ष गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तारी के दौरान प्रिंस गुप्ता के जामा पुल पेंट से एक जिंदा कारतूस पाया गया । जिस पर धारा 25 (1) बी (ए) आम्र्स एक्ट का इजाफा किया गया। आरोपी ओम प्रकाश की पतासाजी की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.