नियमों के ताक में रखकर, बिना एनओसी लग रहे विद्युत कनेक्शन

मामला विद्युत वितरण केन्द्र बुढ़ार का

(Amit Dubey-8818814739)
शहडोल। ट्रांसपोर्ट नगरी बुढ़ार स्थित मध्यप्रदेश विद्यु़त वितरण लिमिटेड कार्यालय में पदस्थ कनिष्ठ यंत्री व उनके वरिष्ठ अधिकारी नियमों को ताक में रखकर सुविधा शुल्क के दम पर खैरात की तरह विद्युत कनेक्शन बांट रहे हैं, गौरतलब है कि बुढ़ार स्थित रेलवे मार्केट के अधिकांश प्रतिष्ठानों को स्थानीय नगरीय निकाय द्वारा अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं दिये गये है, बावजूद इसके विद्युत विभाग के कथित अधिकारी इस ओर से आंखे मूंदकर कनेक्शन बांटने का खेल-खेल रहे हैं, खबर है कि इनके द्वारा क्षेत्र के एक व्यवसायी को सर्वे के नाम पर कनेक्शन दिलाने का ठेका दे दिया गया है, जो अधिकारी के नाम पर पहले राशि तय करता है और फिर उसी के यहां राशि जमा करने के बाद प्रक्रिया आगे बढ़ती है।
जुगाड़ से नियम हुए शिथिल
नियमत: विद्युत कनेक्शन के लिए नगरीय निकाय का अनापत्ति प्रमाण पत्र आवश्यक होता है, जिससे इस बात की पुष्टि होती है कि जिस स्थान पर विद्युत कनेक्शन दिया जा रहा है, वह भूमि या भवन का मालिक कौन है, किसी और के नाम पर विद्युत का कनेक्शन तो नहीं लगवाया जा रहा है, इसके लिए खुद या किराये पर लिए गये भवन के दस्तावेज और इनकी पुष्टि स्थानीय निकाय द्वारा की जानी होती है। इन दस्तावेजों के बिना विद्युत कनेक्शन नहीं किया जा सकता, लेकिन बुढ़ार स्थित विद्युत विभाग का नियम अन्य स्थानों के विद्युत कार्यालयों से अलग ही है, यहां आवश्यक दस्तावेजों से ज्यादा गांधी का महत्व देखा जाता है, इसी के वजन के आधार पर दस्तावेजों की पुष्टि होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *