निर्माणाधीन सड़क में उड़ते हैं धूल के गुब्बारे

गंभीर बीमारियों से ग्रसित हो रहे स्थानीय

(सतीश तिवारी+91 94243 33370)
ब्यौहारी। रीवा-शहडोल मुख्यमार्ग के नगरीय क्षेत्र मे उखड़ी सडक से अनवरत उडऩे वाली धूल डस्ट से स्थानीय लोग परेशान है, सड़क की निरंतर उडऩे वाली डस्ट से व्यापारियों का दुकानों मे बैठना हो रहा मुश्किल और सामान भी खराब हो रहा है, नगरपरिषद और संबंधित विभाग को लोगों की चिंता नही है। नगरीय क्षेत्र के अधिकांश लोग गंभीर बीमारी जैसे दमा, अस्थमा, खासी जैसी स्वांस की अनेक बीमारियों से भी ग्रस्त हो रहे है। विशेष रूप से नौनिहाल एवं स्कूल जाने वाले बच्चों का स्वास्थ्य दिन प्रतिदिन सड़क की उडऩे वाली धूल से खराब हो रहा है। रीवा शहडोल मुख्य मार्ग आखिर किस विभाग के अंतर्गत है यह अभी स्पष्ट नहीं है।
धूल से परेशान शहरवासी
एमपीआरडीसी ने जनपद कार्यालय से बस स्टैण्ड तक लगभग 500 मीटर रोड मेन्टिनेन्स का काम कराया है, लेकिन बाकी सडक टूटी-फूटी और जर्जर स्थिति मे बनी हुई है। राहगीरों के साथ साथ मुख्य सड़क के दोनों तरफ दुकान करने वाले व्यापारी सड़क से उडऩे वाली धूल से सब बेहद परेशान है। शहरीय क्षेत्र के भीतर बस स्टैण्ड से टंकी तिराहा तक अगर सड़क बना दी जाये तो कई जिंदगियां काल के गाल मे समाने से बच सकती है। यहां व्याप्त अव्यवस्था को सुचारू कराने मे नवनिर्वाचित युवा विधायक अगर सार्थक पहल करते है तो निश्चय ही क्षेत्रीय जनमानस का दिल जीत सकते है और यदि यहां के स्थानीय कांग्रेसी अपनी सरकार से इस गंभीर जनहित के मुद्दे पर कुछ कराने मे सफल होते है तो आने वाले लोकसभा चुनाव मे निश्चित ही कांग्रेस को इसका लाभ हो सकता है।
6 महीनें से बंद पड़ा काम
सड़क, बिजली और पानी के कारण ही कांग्रेस 15 साल सत्ता से दूर रही। मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं लोकनिर्माण मंत्री सज्जन वर्मा से क्षेत्र की जनता ने मांग की है कि रीवा-शहडोल सड़क मार्ग के ब्यौहारी नगर के भीतर की सड़क व्यवस्था को बेहतर और सुचारू बनाने की पहल करें साथ ही नगरपरिषद के द्वारा मुख्य सड़क के दोनों तरफ फुटपाथ (चौड़ीकरण) और डिवाइडर का निर्माण कार्य ठेके मे देकर शुरू कराया। जिसके तहत संबंधित ठेकेदार द्वारा खटखरिहा तालाब से बसस्टैण्ड तक डिवाइडर का आधा अधूरा निर्माण तथा चौड़ीकरण हेतु रोड के दोनों तरफ खोदकर उसमें मिट्टी-गिट्टी और डस्ट डालकर लगभग पिछले छ: महीने से छोड़ रखा है, जिसके चलते मुख्य सड़क भी जीर्ण-शीर्ण हो गई है।
गंभीर बीमारी का खतरा
इस समस्या की तरफ न जनप्रतिनिधि और न प्रशासन किसी का ध्यान नही है , जबकि यहां के कई नागरिक इस धूल के चलते गम्भीर बीमारी की चपेट मे पहुंच बाहर इलाज तक कराने को मजबूर हैं, नगर की सड़कों में उडऩे वाली धूल की रोकथाम तथा मुख्य मार्ग मे व्याप्त अव्यवस्था को सुधारने का ज्ञापन व्यापारी संघ ने कई बार मुख्य नगरपालिका अधिकारी को सौंपा था।
इनका कहना है…
इंजीनियर और ठेकेदार की लापरवाही और उदासीनता के चलते मुख्य सड़क के दोनों तरफ निर्माणाधीन फुटपाथ और डिवाइडर का काम अधूरा है, जिसमे हमने संबंधितों को नोटिस जारी किया है।
रीना सिंह
सीएमओ, ब्यौहारी


अगर ऐसा है तो निर्माण एजेंसी और ठेकेदार को वायु अधिनियम की धाराओं के तहत नोटिस भेजकर जवाब तलब किया जायेगा, प्रदूषण न फैले इसके रोकथाम के लिए कार्यवाही की जायेगी।
डॉ. आनंद कुमार दुबे
वैज्ञानिक, पीसीबी
शहडोल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *