निवर्तमान सीईओ जिला पंचायत को दी गयी भावभीनी विदाई

सीखने की ललक को कभी ख़त्म न होने दें – कलेक्टर

Ajay Namdev- 7610528621

अनूपपुर । एक अच्छा अधिकारी और प्रशासक वह है जो सदैव अपने आप में विकास के लिए लालायित रहे सीखने की ललक को हमेशा जीवंत रखे। ज़िला पंचायत सभागार में निवर्तमान सीईओ ज़िला पंचायत एवं वर्तमान अपर कलेक्टर जबलपुर डॉ सलोनी सिडाना के विदाई समारोह में कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने कहा डॉ सिडाना की सीखने की ललक उन्हें एक उत्कृष्ट प्रशासक बनाती है। कार्य के प्रति लगन एवं क्रियान्वित कार्यों के लिए जो समझ आप में थी वह निःसंदेह कार्य के प्रति आप के समर्पण को निरूपित करता है जो कि सभी अधिकारी कर्मचारियों समेत हर एक व्यक्ति के लिए अनुकरणीय है। आपने कहा अल्प समय में ही आपने सौंपी गयी ज़िम्मेदारियों को जिस क़ाबलियत से निभाया वह सराहनीय है। किसी भी चुनौती को सहर्ष स्वीकारना एवं आगे कार्य करना आपकी विलक्षण प्रतिभा थी। श्री ठाकुर ने कहा अन्यों की तरह मैंने भी आपसे बहुत कुछ सीखा है। आपने कहा आपके जैसा कुशल अधीनस्थ अधिकारी प्राप्त होने पर उच्चाधिकारी का कार्य आधा हो जाता है। आपके जैसे योग्य एवं कर्मठ अधिकारी की कमी खलेगी। श्री ठाकुर ने कहा इस बात में कोई संदेह नही है कि आपकी मेहनत आपको एक दिन प्रदेश समेत देश के कुशल प्रशासकों के समकक्ष लाएगी। श्री ठाकुर ने कहा डॉ सिडाना महिला सशक्तिकरण का उत्कृष्ट उदाहरण हैं जो यह स्पष्ट करता है कि योग्य अधिकारी का पुरुष अथवा महिला होने से सम्बंध न होकर कार्य करने की लगन से होता है। आपने डॉ सिडाना को नवीन सौंपी गयी ज़िम्मेदारियों का अनूपपुर की भाँति उत्कृष्ट क्रियान्वयन करने की शुभकामनाएँ दी हैं

स्वप्रेरणा से कार्य करने की डॉ सिडाना ने दी सलाह

डॉ सलोनी सिडाना ने स्वच्छ भारत अभियान, प्रधानमंत्री आवास योजना, विधानसभा निर्वाचन में बढ़े वोटर टर्न आउट, जय किसान फ़सल ऋण माफ़ी योजना का क्रियान्वयन एवं कुशल संचालन आदि का श्रेय समस्त ज़िला पंचायत की टीम एवं सम्बंधित विभागीय अधिकारियों को देते हुए कहा एक प्रशासक का कार्य एवं नेतृत्व अच्छा तब दिखता है जब उसकी पूरी टीम मनोयोग से उसकी सोच को क्रियान्वित करने के लिए तत्पर हो। इस दौरान आपने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ आरपी श्रीवास्तव से यह सुनिश्चित करने का आह्वान किया कि ज़िला चिकित्सालय समेत अन्य सीएचसी कायाकल्प पुरुष्कार के लिए चिह्नांकित हों। आपने शिक्षा स्वास्थ्य ग्रामीण विकास के विषयों में चर्चा करते हुए अधिकारियों से अपेक्षा की कि वे सब आमजनो के उत्थान हेतु आगे आकर स्वप्रेरणा से कार्य करेंगे।
इस दौरान आपने कलेक्टर श्री ठाकुर के बारे में कहा ऐसे योग्य उच्चाधिकारी के अंदर कार्य करना मेरा सौभाग्य है। आपने कहा श्री ठाकुर द्वारा उचित मार्गदर्शन एवं कार्य करने की स्वतंत्रता प्राप्त हुई जिससे कार्य के प्रति उत्साह एवं समर्पण बनाए रखना आसान हो गया। आपने कहा अनूपपुर निःसंदेह बहुत ही रमणीय एवं सुंदर है परंतु विकास की परिभाषा में इसे ऊँचे पायदान में ले जाने के लिए सभी विभागों को समेकित प्रयास करना होगा।
आपने महिला अधिकारियों से अपेक्षा की है कि वे जिस भी विभाग से सम्बंधित हों कार्य का दायित्व का इस भाँति निष्पादन करें कि उनका कार्यकाल एक मिशाल बन जाए, एक प्रेरणा बन जाए। आत्मविश्वास होने के साथ स्पष्ट परिलक्षित होना भी आवश्यक है। आपने अनूपपुर ज़िले अंतर्गत कार्यरत सभी महिला अधिकारियों एवं कर्मचारियों को शुभकामनाएँ देते हुए कहा आप सभी से यह अपेक्षा है और विश्वास है कि नौकरी से सम्बंधित दायित्वों के निर्वहन में भी आप सब पुरूष अधिकारियों से एक क़दम आगे रहेंगी।
आपने कहा कार्य के उद्देश्य से ही प्रशासक को कभी क़भार कड़क रवैया अख़्तियार करना पड़ता है, वह व्यक्तिगत न होकर कार्य से सम्बंधित रहता है। अनूपपुर ज़िले के अधिकारी कभी भी किसी विषय में चर्चा करने अथवा किसी समस्या के होने पर स्वतंत्र होकर सम्पर्क करें।

चुनौतियों का आगे आकर सामना करने की भावना आपको बनाती है अलग – वैष्णव शर्मा

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक वैष्णव शर्मा ने डॉ सिडाना को नवीन ज़िम्मेदारियों के उत्कृष्ट निर्वहन की शुभकामनाएँ देते हुए कहा चुनौतियों का आगे आकर सामना करने की भावना आपको अलग बनाती है इसी भावना से जनकल्याणकारी योजनाओं का उत्कृष्ट क्रियान्वयन किया जा सकता है। निः संदेह आप जहाँ भी जाएँगी सफलता को प्राप्त करेंगी।

अधिकारियों व कर्मचारियों ने याद किया व्यक्तित्व एवं कृतित्व

डॉ सिडाना की विदाई के भावनात्मक क्षणो में ज़िला पंचायत के अधिकारियों कर्मचारियों समेत कलेक्ट्रैट कार्यालय के अधिकारियों कर्मचारियों ने आपके व्यक्तित्व एवं कृतित्व को याद किया किसी ने आपको कुशल प्रशासक, किसी ने संवेदनशील, किसी ने मार्गदर्शक तो किसी ने आपकी कड़ी मेहनत एवं लगन की तारीफ़ की। सभी अधिकारियों के चेहरे में दुःख था पर संतोष भी था इस बात का कि आप बड़े दायित्वों के निर्वहन के लिए जा रही है। अधिकारियों का कहना था कि आपकी नज़र अधिकारी के ओहदे में न होकर कार्य के प्रति उसके समर्पण पर थी वही योग्यता का मानक था। सभी ने एक स्वर में आपको भरोसा दिलाया आपकी सोच को क्रियान्वित कर अनूपपुर को उत्कृष्ट ज़िला बनाएँगे।
इस दौरान एसडीएम पुष्पराजगढ़ बालागुरु के, एसडीएम कोतमा मिलिंद नाग़देवे, एसडीएम अनूपपुर श्रीमती नदीमा शीरी, एसडीएम जैतहरी ऋषि सिंघई, डिप्टी कलेक्टर अमन मिश्रा समेत कलेक्ट्रैट एवं ज़िला पंचायत के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.