पटरी से उतरी कानून व्यवस्था @ संभ्रांतों को बदमाशों ने चाकुओं से गोदा

0
4886

पटरी से उतरी कानून व्यवस्था @ संभ्रांतों को बदमाशों ने चाकुओं से गोदा


शहडोल । जिले की कानून व्यवस्था लगातार पटरी से उतरती नजर आ रही है , मंगलवार की सुबह खनिज माफिया के द्वारा महिला अधिकारी के ऊपर हमला किया गया और उससे वाहन छुड़ाने का प्रयास किया गया, बुढ़ार थाना क्षेत्र अंतर्गत धनगवां एवम देवरी नंबर 1 और उससे सटे ग्रामों में खनिज माफिया इतना हावी हो चुका है कि वह अब किसी के ऊपर भी हमला करने में परहेज नहीं कर रहा।

बीती रात संभागीय मुख्यालय के चपरा क्वार्टर के समीप नगर के प्रतिष्ठित ओचानी परिवार के युवाओं पर बदमाशों ने चाकुओं से हमला किया घटना के बाद बड़ी संख्या में स्थानीय लोग इकट्ठे हो गए और दोनों युवाओं को जिला चिकित्सालय में उपचार के लिए भर्ती कराया गया। पुलिस ने इस संदर्भ में अस्पताल चौकी पर जीरो में अपराध कायम कर विवेचना तो शुरू कर दी है लेकिन सवाल उठता है कि जब संभागीय मुख्यालय जहाँ पुलिस महानिरीक्षक से लेकर पुलिस उपमहानिरीक्षक, पुलिस अधीक्षक, डीएसपी एसडीओपी और पुलिस लाइन की लंबी फौज सहित कोतवाली पुलिस मौजूद हो, वहां संभ्रांत लोगों के ऊपर बिना किसी ठोस कारण और पुरानी दुश्मनी के बदमाशों द्वारा चाकू से हमला किया जाए, तो यह समझा जा सकता है कि मुख्यालय की कानून व्यवस्था पटरी से उतर चुकी है।

घटना मंगलवार की देर शाम की बताई गई है, चपरा क्वार्टर के समीप रहने वाले प्रतिष्ठित व्यवसाई प्रकाश ओचानी और उनके परिजन जो सब्जी मंडी में कपड़े के व्यवसाय के साथ ही अन्य प्रतिष्ठानों से जुड़े हुए हैं, देर शाम घर के बाहर टहल रहे थे इसी दौरान वहां पर आरजू खान , भूरा , सोनू , सद्दाम व अन्य लोग किसी काम में पहुंचे। चर्चा पर यकीन करें तो आरजू खान, भूरा व सोनू सम्भवतः सद्दाम के घर जा रहे थे ,इसी दौरान सड़क पर एक महिला और उसके बच्चे से बदतमीजी कर रहे थे, और उसे मारने का प्रयास करने लगे , घर के सामने जब यह नजारा के पास खड़े पवन ओचानी ने देखा तो वह वहां जा पहुंचे जैसे ही उसका कारण पूछा तो बदमाशों ने पंकज ओचानी पर चाकू से हमला कर दिया, पास में टहल रहे कथित युवा के भाई गौरव ओचानी ने जब यह नजारा देखा तो वह उसे बचाने आया तो उसके ऊपर भी चाकुओं से हमला किया गया, इसी बीच पंकज ओचानी भी वहां पहुंचे तो बदमाशों ने उसे भी चाकुओं उसे मारने में परहेज नहीं की, इसी भी हल्ला होने लगा और बदमाश वहां से भाग निकले बदमाशों की पूरी हरकतें और चाकू से किया गया हमला पास लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया है।

गौरतलब है कि यह सभी कथित बदमाश उसी गैंग के हैं जिन्होंने मंगलवार की सुबह गोहपारू वन परिक्षेत्र अधिकारी श्रीमती पुष्पा सिंह और अन्य व कर्मियों के ऊपर हमला किया था, बुढ़ार थाने में मामला दर्ज होने के बाद कथित आरोपी इधर उधर भाग रहे थे , संभवत मोहल्ले में रहने वाले सद्दाम जो इन से जुड़ा हुआ है , उसके पास किसी काम से मिलने आए थे इसी दौरान यह घटना उनके द्वारा कारित की गई।

सवाल ये उठता है कि संबंधित थानों की पुलिस और खनिज विभाग ने किस हद तक कथित युवाओं को अवैध उत्खनन और परिवहन की छूट दे रखी थी, जिस कारण उनके हौसले इतने बुलंद हो गए कि उन्होंने विभागीय अधिकारी के ऊपर भी हाथ उठाने और हमला करने में परहेज नहीं की यदि समय रहते संबंधित थाना क्षेत्र की पुलिस और खनिज विभाग ने अपना कर्तव्य ठीक ढंग से निभाया होता तो आज इनके हौसले इस कदर नहीं बढ़ते। शासकीय अधिकारी के बाद कथित बदमाशों ने संभ्रांत और प्रतिष्ठित व्यापारियों के ऊपर हमला कर पुलिस के साथ ही प्रशासन और कानून को खुली चुनौती दे दी।

देर शाम हुई इस घटना के बाद पूरे व्यापारियों एवम सिंधी समाज में इस बात को लेकर खासा रोष देखने को मिला। खबर है कि आज बुधवार को व्यापारियों का प्रतिनिधिमंडल और सिंधी समाज का प्रतिनिधि मंडल कलेक्टर पुलिस अधीक्षक और अन्य अधिकारियों से मुलाकात कर कथित आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग करेगा, साथ ही यह बात भी सामने आई कि यदि प्रशासन इस बात को लेकर गंभीर नजर नहीं आता है तो अगले 24 घंटे के बाद व्यापारी नगर बंद भी कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here