पार्टी से इस्तीफा देने वाले भाजपा नेता को बैठक करने की जिम्मेदारी

Ajay Namdev- 7610528622

अनूपपुर। पार्टी के ऐसे नेता जोकि विधानसभा टिकट ना मिल पाने के बाद पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दिए थे वह टिकट न मिलने के बाद अपनी सक्रियता कम कर दिए थे, ऐसे नेता आगामी 19 जुलाई को अनूपपुर जिला मुख्यालय में सदस्यता अभियान को लेकर बैठक लेने पहुंच रहे हैं। जैसे ही जिले के कई कार्यकर्ताओं को जानकारी मिली की ऐसे नेता अब सदस्यता अभियान को लेकर बैठक लेने आ रहे हैं। सोशल मीडिया में तरह-तरह की चर्चाएं शुरू होना प्रारंभ हो चुका है।

विधानसभा की मांगी थी टिकट

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रह चुके अरुण द्विवेदी जो कि पूर्व में अनूपपुर जिले के प्रभारी रहे उन्होंने वर्ष 2018 में सतना जिले के अमरपाटन विधानसभा से टिकट मांगी थी, लेकिन पार्टी ने उन्हें टिकट न देकर रामखेलावन पटेल को टिकट दी थी जोकि विजई हुए थे। टिकट न मिलने के बाद अरुण द्विवेदी ने पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया आखिर ऐसे अवसर वादियों को पुनः प्रभारी बनाकर अनूपपुर भेजे जाने से कार्यकर्ताओं द्वारा सवाल उठाना लाजमी है। आरोप जन चर्चाओं के मुताबिक अरुण द्विवेदी जब अनूपपुर जिले के प्रभारी रहे उस समय नगर पालिका कोतमा की टिकट वितरण में लेन-देन के आरोप भी कार्यकर्ताओं ने नाम न छापने की शर्त पर लगाए थे। यह सही है कि टिकट मिले या ना मिले नेताओं को पार्टी के प्रति समर्पित रहना चाहिए लेकिन प्रभारी बनकर अनूपपुर पहुंच रहे कथित नेता अरुण दुबे पार्टी के प्रति विधानसभा चुनाव में कितना समर्पित रहे यह तो अमरपाटन विधानसभा की जनता ही बता सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed