पीटीआई ने बच्चों को पीटा, सिफारिश पर थाने पहुंचे प्रिंसिपल

मामला बुढ़ार स्थित हॉयर सेकेण्ड्री विद्यालय का

(शुभम तिवारी+8770354184)
शहडोल। बिना किसी वाजिब कारण के ही हॉयर सेकेण्ड्री विद्यालय (लडसरिया) बुढ़ार के छात्रों को पीटीआई राजकुमार गुप्ता द्वारा आये दिन पीटने की शिकायतें सामने आ रही हैं, चार दिन पूर्व छात्र से की गई पिटाई का मामला बीईओ अशोक शर्मा तक पहुंचा था। वहीं शुक्रवार को पीटीआई ने दर्जन भर छात्रों की ऐसी पिटाई की कि उनके हाथ और पीठ पर मार के निशान उभर आये, आंखों में आंसू और मन में उदासी भरे बच्चों ने जानकारी अभिभावकों तक पहुंचाई और खुद ही विद्यालय के समीप स्थित थाने में आकर राजकुमार गुप्ता के खिलाफ कार्यवाही की मांग की। पुलिस जब तक मामले को समझती और बच्चों का मेडिकल कराती, विद्यालय के प्रिंसिपल बजरंग द्विवेदी, पीटीआई व अभिभावकों को लेकर थाने पहुंच गये और रजामंदी की बात प्रभारी से कह मामले को रफा-दफा करने का प्रयास किया।
दबाव में दिखे अभिभावक
बच्चों के थाने पहुंचने के बाद प्रिंसिपल और पीटीआई ने मिलकर मामले को रफा-दफा करवाने की नीयत से बच्चों के अभिभावकों को बुलाया, उन पर दबाव डालकर शिकायत न करने की बात कही। बच्चों के भविष्य व वर्ष खराब न करने के साथ ही प्रिंसिपल से संबंध न बिगाडऩे के फेर में अभिभावकों ने पुलिस के सामने शिकायत न करने की बात कही और वहां से निकल गये।
बयान देते, छलक पड़ी आंखे
थाना परिसर में ही बच्चों ने अपने साथ आप-बीती घटना बताई, इस दौरान दर्द और आंतरिक पीड़ा से बच्चें अपने आंसू तक नहीं रोक सके, दूसरी तरफ प्रिंसिपल और पीटीआई चंद दलालों के माध्यम से बच्चों को उनकेे भविष्य बिगाडऩे की धमकी दिलवाते रहे, इस दौरान कई बच्चों ने अपनी दोनों हथेलिया खोलकर रूल से पीटने के बाद उभरे निशान दिखाये, वहीं एक बच्चें ने अपनी पीठ पर रूल से पिटाई के बाद पड़े निशान भी दिखाये, बच्चों ने यह भी बताया कि कथित पीटीआई उनके व साथी छात्राओं के साथ भी गालियां देकर बात करता है। कई दिनों से यह चल रहा है, आज जब सहन नहीं हुआ तो हम थाने आ गये।

छुट्टी लेकर गायब हुए पीटीआई
घटना के बाद पीटीआई राज कुमार गुप्ता, प्रिंसिपल बजरंग द्विवेदी को लेकर मामले को निपटाने के लिए बुढ़ार थाने गये थे, लेकिन वहां से निकलने के बाद उन्होंने अचानक छुट्टी ले ली और विद्यालय से गायब हो गये, दूसरी तरफ प्रिंसिपल ने शहर के नामचीन लोगों को फोन लगाकर पुलिस व मीडिया पर दबाव डालने की कवायत शुरू कर दी, हालाकि वो अपने इस गंदे प्रयास में कितने सफल हुए, यह वही जाने।
बचाव में उतरेे प्रिंसिपल
अपने अधीनस्थ शिक्षक द्वारा बच्चों के साथ गंभीर मारपीट करने के मामले में प्रिंसिपल बजरंग द्विवेदी ने पीटीआई के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की। बल्कि वो उसके बचाव में उतर आये, ऑफ रिकार्ड बच्चों व अभिभावकों पर शिकायत न डालने का दबाव डालते दिखे, बाद में उन्होंने पुलिस और शिक्षा विभाग के अधिकारियों को भी इस मामले में गुमराह करने का प्रयास किया।
इनका कहना है…
2 दिवस पहले भी किसी अभिभावक ने राज कुमार गुप्ता के द्वारा मारपीट की शिकायत दी थी, शुक्रवार को हुई घटना और मामला थाने तक पहुंचने की जानकारी मिली है, हमने जांच कमेटी गठित कर दी है।
अशोक शर्मा
विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी
बुढ़ार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *