प्रोफेसर के खिलाफ हुआ मामला पंजीबद्ध

Ajay Namdev-7610528622
छात्रा ने प्रोफेसर पर लगाये थे प्रताडऩा के आरोप
अनूपपुर। इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय की छात्रा के द्वारा प्रोफेसर संतोष सोनकर के ऊपर लगाए गए प्रताडऩा के आरोप की शिकायत 19 नवंबर को थाना अमरकंटक में की गई थी लेकिन मामले में पुलिस किसी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं कर रही थी। पूरे मामले को खबर प्रकाशित होने के बाद आनन-फानन में पुलिस महकमा जागा और 24 नवंबर रविवार को दोपहर बाद थाना अमरकंटक पुलिस के द्वारा प्रोफेसर संतोष सोनकर के विरुद्ध आईपीसी की धारा 354, 354 (क) और 506, 509 के तहत अपराध दर्ज किया गया। हालांकि पुलिस अभी मामले में छात्रावास प्रोफेसर के बयान नहीं ले सकी है पूरे मामले में जांच बाकी है। इस मामले में छात्रा का कहना है कि न्याय ना मिलने तक लडूंगी बीते 3 साल से मैं प्रताडित हो रही थी, प्रताडऩा की हद पार होने के बाद मेरे द्वारा यह कदम उठाया गया और मैं किसी भी तरह से पीछे नहीं हटने वाली हूं। मुझे लगातार शिकायत वापस लेने के लिए दबाव आ रहा है यहां तक कि मेरे परिजनों को भी दबाव दिया जा रहा है लेकिन मैं पीछे हटने वाली नहीं हूं। वही डॉक्टर संतोष सोनकर ने कहा कि जो भी आरोप लगाकर छात्रा ने शिकायत की है वह झूठी है इसके पीछे विश्वविद्यालय के एक प्रोफेसर षड्यंत्र रच कर उन्हें बदनाम करना चाहते हैं मैंने भी थाना अमरकंटक में शिकायत देकर प्रकरण की जांच की मांग की है।