फरियादी के साथ वर्दीधारी ने की दबंगई

जैतपुर थाना का मामला

(Amit Dubey-8818814739)
शहडोल। जैतपुर थानान्तर्गत मारपीट के एक मामले में न्याय पाने पुलिस के पास पहुंचे फरियादी को पुलिस प्रताडऩा का शिकार होना पड़ा। थाने से प्रताडि़त फरियादी ने पुलिस अधीक्षक के पास न्याय की गुहार लगाते हुए जैतपुर थाने में पदस्थ थानेदार के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग करते हुए उसके साथ मारपीट करने वालों के खिलाफ भी कार्यवाही की मांग की है।
जैतपुर थानान्तर्गत ग्राम खैरहनी निवासी सुनील कुमार मिश्रा पिता नारेन्द्र मिश्रा ने सोमवार को पुलिस अधीक्षक शहडोल कुमार सौरभ को एक आवेदन दिया, जिसमें उसने बताया है कि 23 मार्च को वह अपने घर खैरहनी से खाम्हीडोल जा रहा था, दोपहर लगभग 01 बजे रास्ते में उसके साथ नन्दलाल यादव एवं उसके पुत्र रास्ता रोकते हुए गाली-गलौज कर टांगी से मारने की कोशिश की है। साथ ही उससे 3200 रुपये छुड़ा लिये। मामले की शिकायत करने जब वह जैतपुर थाना पहुंचा तो वहां पदस्थ उपनिरीक्षक प्रदीप द्विवेदी तस्दीक करने को कहकर उसे घटनास्थल तक लेकर गये। उसके पश्चात वह नन्दलाल यादव और उसके पुत्र सहित सभी को मंडल अध्यक्ष के यहां ले गये, जहां मेरे पिताजी को भी बुलवाये। मंडल अध्यक्ष के घर पर घटना को लेकर वाद-विवाद हुआ, जिसके पश्चात हम सभी जैतपुर थाना पहुंचे, जहां एसआई प्रदीप द्विवेदी ने मेरे साथ अभद्रता करते हुए मेरे पिताजी पर दबाव बनाकर एक झूठी शिकायत ले ली। साथ ही वह इस बात के लिये भी धमकाये कि मैं जो कह रहा हूँ वैसा लिखवाओ नहीं तो तुम्हें जेल में सड़ा दूंगा। फरियादी ने अपने साथ हुई मारपीट व एसआई प्रदीप द्विवेदी द्वारा अभद्रता व धमकाने की शिकायत करते हुए बताया कि पुलिस के पास वह न्याय पाने पहुंचा था, किंतु उसे वहां प्रताडऩा मिली। उसने पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाया है कि इस घटना से वह और उसका परिवार काफी डरा हुआ है, साथ ही मारपीट करने वाले लोगों द्वारा उसे एससी, एसटी एक्ट में फंसाने की धमकी दी जा रही है, यदि उसके साथ आने वाले दिनों में कुछ अप्रिय घटना घटित होती है तो उसके लिये वह यादव परिवार के साथ ही एसआई प्रदीप द्विवेदी जिम्मेदार होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *