बड़ी खबर…उमरिया से पश्चिम बंगाल जा रहे उज्जवला योजना के 800 सिलेंडर जप्त

उमरिया। जिले की पुलिस ने अभी से कुछ घंटे पहले आधी रात को उमरिया के लोहार गंज अंतर्गत एक आवास से प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के 800 सिलेंडर पश्चिम बंगाल के दो ट्रकों में लोड होते हुए जप्त किए हैं। उमरिया पुलिस ने फिलहाल सिलेंडर वाहनों व चालक सहित कोतवाली उमरिया में लाकर खड़ा करवाया हैं खबर है कि यह सिलेंडर वीरेंद्र सिंह सेंगर नाम के युवक के घर से पश्चिम बंगाल की गाड़ियों में लोड हो रहे थे इन सिलेंडरों को वीरेंद्र सिंह ने किस आधार पर यहां पर छुपा कर रखा था यह अभी जांच का विषय है, पुलिस को धरपकड़ के दौरान वाहनों से जो बिल्टीया मिली है उनमें करकेली से नागपुर का उल्लेख है पुलिस पूरे मामले की जांच में लगी हुई है यह माना जा रहा है कि पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव अपने चरम पर है और वहां मतदाताओं को लुभाने सिलेंडर के नाम पर रिश्वत देने के लिए यह सभी सिलेंडर वहां भेजा जा रहा था हालांकि यह अभी जांच का विषय है। पूरा मामला पुलिस अधीक्षक के संज्ञान में होने की खबर है और पुलिस अभी और कई ठिकानों पर छापामार कार्यवाही में लगी हुई है।

नोट फॉर वोट की तर्ज पर सिलेंडर फॉर वोट का खेल !

चुनाव में मतदाताओं को लुभाने के लिए नोट फार वोट की तर्ज पर सिलेंडर फार वोट के नजरिये से भी देखा जा रहा है। आधी रात को हुई इस कार्यवाही की खबर उमरिया सहित पूरे शहडोल संसदीय क्षेत्र में आग की तरह फैल गई है और इस मामले में कांग्रेस सहित अन्य राजनीतिक दल भी सक्रिय हो चुके हैं गौरतलब है कि बीते 3 दिनों पहले ही शहडोल संसदीय क्षेत्र में लोकसभा के लिए मतदान हुआ था और पूरे देश में आगामी 23 मई तक आदर्श आचार संहिता लागू है पश्चिम बंगाल की ट्रकों में सिलेंडरों का लोड होना और उसमें प्रधानमंत्री उज्जवला योजना का उल्लेख होना खुद-ब-खुद इस पूरे मामले को भाजपा और सिलेंडरों को पश्चिम बंगाल में ले जाकर वोटरों को बांटने से जोड़कर देखा जा रहा है हालांकि सच क्या है यह तो जांच के बाद सामने आएगा लेकिन इस पूरे मामले ने कांग्रेस को एक मौका दे दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed