मर्डर और हॉफ मर्डर करने जैसा कोई मोटिव नहीं

(अनिल साहू+91 70009 73175)
उमरिया। एक मर्डर और परिवार के ही दो महिला सदस्यों के साथ हाफ मर्डर जैसे गम्भीर अपराध में पुलिस ने जो स्टोरी आरोपी से पूछताछ में सामने लायी है,वह किसी भी दृष्टिकोण से इतने बड़े अपराध का मोटिव नही जान पड़ता, हालांकि पुलिस भी हैरान है,की इतनी छोटी बात पर आखिर क्यों आरोपी इतनी बड़ी वारदात को अंजाम देगा। दोपहर 4 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पुलिस अधीक्षक ने बताया कि कारोबारी सुरेश अग्रवाल की हत्या और पत्नी के साथ उसकी बेटी को तलवार के हमले से लहूलुहान करने वाला दुर्दांत आरोपी संजय पिता विष्णु यादव उम्र 19 वर्ष घर पर दूध देता था, जो घटना दिनांक को वारदात को अंजाम देकर दूसरे प्रदेश भागने की फिराक में था, हालांकि पुलिस की सजगता और तत्परता से घटना के कुछ ही घण्टों में आरोपी को गिरफ्तार किया जा सका है, प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पुलिस अधीक्षक के साथ एडिशनल एसपी डी.के. प्रजापति एवं एसडीओपी आर.के. शुक्ल भी मौजूद रहे। इस दौरान पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस हिरासत के दौरान पूछताछ में आरोपी ने मृतक कारोबारी से किसी मामले पर खुन्नस होने की बात स्वीकारी है, जिसके बाद उसने घर मे घुसकर वारदात को अंजाम दिया है। उन्होंने यह भी बताया कि घटना की रात वारदात को अंजाम देने के करीब एक घण्टे पहले ही आरोपी मृतक कारोबारी के घर मे जाकर छुप गया था,देर रात तकरीबन 10 बजे जब मृतक सुरेश अग्रवाल घर पहुंचा तो वह पास रखे तलवार से हमला कर दिया,वारदात को अंजाम देकर वह बारी बारी से मृतक कारोबारी की पत्नी संध्या और बेटी कशिश पर प्राणघातक हमला किया था।इस बीच किसी तरह बेटी कशिश घर से भागी और लोगो से इस मामले में मदद मांगी,उन्होंने बताया कि इस मामले में आरोपी संजय यादव के विरुद्ध धारा 302,307,397,460 भादवि कायम कर न्यायालय में पेश किया गया है। इस पूरे मामले में उन्होंने यह भी बताया कि आरोपी के द्वारा घटना कारित करने के दौरान उपयोग की गई तलवार भी जप्त की गई है एवं न्यायालय से आरोपी के पुलिस रिमांड के लिए भी निवेदन किया गया है। इस पूरे मामले में आरोपी की घटना के बाद चंद घण्टों में गिरफ्तारी पर शामिल पुलिस टीम को भी बधाई दी है,और पुरस्कृत करने की बात कही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *