महाप्रबंधक राघवेंद्र प्रताप सिंह के प्रयास से एक अरब उन्चास करोड़ रुपए हुए स्वीकृत मेगा प्रोजेक्ट रामपुर बटुरा के लिए अधिग्रहित होगी 533 हेक्टेयर जमीन

(धनपुरी से चंद्रेश मिश्रा)

धनपुरी-4 मई को सोहागपुर क्षेत्र की कमान संभालने वाले नवागत महाप्रबंधक राघवेंद्र प्रताप सिंह ने आते ही कोयला उत्पादन लक्ष्य प्राप्त करने को अपनी पहली प्राथमिकता बताया था उन्होंने बड़ी गंभीरता के साथ कहा था कि सोहागपुर क्षेत्र कोयला उत्पादन लक्ष्य प्राप्त करने के लिए अपनी विशेष पहचान बनाएगा वर्षों से बहुप्रतीक्षित मेगा प्रोजेक्ट बटुरा रामपुर शीघ्र शुभारंभ होगा इसके लिए पूरी मेहनत एवं इमानदारी से प्रयास किए जाएंगे और अब महाप्रबंधक राघवेंद्र प्रताप सिंह के प्रयास से मेगा प्रोजेक्ट रामपुर बटुरा शीघ्र शुरू करने की दिशा में बहुत बड़ी सफलता प्राप्त हुई है इस संबंध में महाप्रबंधक राघवेंद्र प्रताप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि मेगा प्रोजेक्ट रामपुर बटुरा क्षेत्र की 533 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहित की जाएगी और ग्राम वासियों को मुआवजे के लिए डायरेक्टर बोर्ड ने एक अरब 49 करोड़ रुपए स्वीकृत कर दिए हैं शीघ्र ही जमीन अधिग्रहण करके ग्राम वासियों को मुआवजा वितरित किया जाएगा महाप्रबंधक ने बताया कि पूर्व में मेगा प्रोजेक्ट के लिए 490 हेक्टेयर जमीन पहले ही अधिग्रहित की जा चुकी है और जिन ग्राम वासियों की जमीन अधिग्रहित की गई थी उन्हें 94 करोड़ रुपए मुआवजा वितरित किया जा चुका है
जो कहते हैं वह कर दिखाते हैं महाप्रबंधक राघवेंद्र प्रताप सिंह-सोहागपुर क्षेत्र कोयला उत्पादन के लिए अपनी एक विशेष पहचान रखता था समय-समय पर कई महाप्रबंधक सोहागपुर क्षेत्र की कमान संभाले और अपने कामों की वजह से अपनी विशेष पहचान बनाते हुए क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का लोहा बनवाया सोहागपुर क्षेत्र में कुछ वर्षों पूर्व विंध्य क्षेत्र के सपूत आरबी शुक्ला ने क्षेत्र की कमान संभालते ही यह बता दिया था कि वह कोयला उत्पादन बढ़ाने के लिए सोहागपुर क्षेत्र को आगे बढ़ाने के लिए आए हुए हैं और बहुत ही कम समय में उन्होंने धनपुरी ओपन कास्ट दामिनी एवं खैरहा खदान खुलवाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया था मुसीबत तो उनके सामने भी बहुत सी थी लेकिन दृढ़ संकल्प के धनी विंध के सपूत आरबी शुक्ला ने चुनौतियों का सामना करते हुए फतह हासिल की थी सोहागपुर क्षेत्र में इनके कार्यकाल में कोयला उत्पादन बढ़ा लक्ष्य प्राप्त हुए और आज भी क्षेत्र में लोग आर बी शुक्ला का नाम कोयला उत्पादन बढ़ाने एवं नई खदानों को खोलने में महारत हासिल रखने वाले महाप्रबंधक के रूप में लेते हैं उसके बाद सोहागपुर क्षेत्र की कमान डीपी तिवारी ने संभाली लेकिन इनके कार्यकाल में सोहागपुर क्षेत्र को सिर्फ घाटा ही हासिल हुआ करोड़ों रुपयों की मशीनें पानी में डूब गई दुर्घटनाएं हुई और उनके कार्यकाल में यही बस घटनाएं आज भी लोगों को याद है अब इसे उपलब्धि भी कहा जा सकता है और दुर्भाग्य भी 2 वर्ष पूर्व छत्तीसगढ़ के सपूत देवेंद्र कुमार चंद्राकर ने सोहागपुर क्षेत्र की कमान संभाली कोयला उत्पादन को लेकर बात तो बड़ी-बड़ी कहीं गई थी लेकिन परिणाम यह था की इनके दो वर्ष के कार्यकाल में सोहागपुर क्षेत्र को लगभग 13 अरब रुपयों का शुद्ध नुकसान हुआ पूर्व महाप्रबंधकों के द्वारा बोई हुई फसल काटने में ही इन्होंने अपना विशेष फोकस रखा और कोयला उत्पादन बढ़ाने की दिशा में मजबूती से इमानदारी से कोई विशेष प्रयास नहीं हुए स्थानांतरित होने से पहले इनके मन में कोरोना वायरस संक्रमण का डर समा चुका था और हर समय वह कोरोना का रोना रोते रहते थे क्षेत्र में उनके कार्यकाल के दौरान निराशा एवं मायूसी छा चुकी थी और ऐसा लगता था की सोहागपुर क्षेत्र के विकास के पहिए जंग खा चुके हैं
महाप्रबंधक देवेंद्र कुमार चंद्राकर के स्थानांतरण होने के बाद क्षेत्र की कमान राघवेंद्र प्रताप सिंह ने संभाली और उनके आते ही मानो सोहागपुर क्षेत्र की फिजा बदल गई हो सकारात्मक सोच रखने वाले दृढ़ संकल्प के धनी और ऊर्जावान महाप्रबंधक ने आते ही बड़ी गंभीरता के साथ कहा की सोहागपुर क्षेत्र कोयला उत्पादन लक्ष्य प्राप्त करने में अपनी विशेष पहचान बनाएगा और महज चंद दिनों के अंदर उन्होंने अपनी कही हुई इन बातों को साबित करके दिखा दिया अरबों के घाटे में चलने वाले सोहागपुर क्षेत्र की फिजा बदल गई और एक दिन के कोयला उत्पादन में सोहागपुर क्षेत्र ने सभी 8 क्षेत्रों को पछाड़ते हुए पहला स्थान प्राप्त किया महाप्रबंधक ने प्रतिदिन के कोयला उत्पादन को बढ़ाने की बात कही थी और वर्तमान समय में सोहागपुर क्षेत्र 17913 टन कोयला उत्पादन के आंकड़े को पार कर चुका है और महाप्रबंधक ने यह भी पूरे विश्वास के साथ कहा था की जल्द ही सोहागपुर क्षेत्र प्रतिदिन 20 हजार टन कोयला उत्पादन के आंकड़े को भी पार करेगा महाप्रबंधक ने अभी तक जो भी बातें कही थी उसे साबित करके दिखाया है जिसके कारण आज पूरा क्षेत्र उनकी ओर उम्मीद से देखता है की सोहागपुर क्षेत्र की किस्मत बदलने वाली है क्योंकि क्षेत्र में ऊर्जावान महाप्रबंधक राघवेंद्र प्रताप सिंह ने कमान संभाल ली है
हजारों बेरोजगारों को जल्द मिलेगी नौकरी-महाप्रबंधक राघवेंद्र प्रताप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि मेगा प्रोजेक्ट शुरू करने की दिशा में हम पूरी मेहनत एवं इमानदारी से प्रयास कर रहे हैं मेगा प्रोजेक्ट रामपुर बटुरा शुरू होने से क्षेत्र में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे मेगा प्रोजेक्ट के शुरू होते ही रामपुर में 1073 बेलिया में 260 एवं खाड़ा में 138 लोगों को नौकरी मिलेगी वर्षों से नौकरी की आस लगाकर रखने वाले लोगों को जल्द ही नौकरी मिलेगी और काश्तकारों को मुआवजा महाप्रबंधक राघवेंद्र प्रताप सिंह के द्वारा जिस प्रकार से लगातार रामपुर बटुरा क्षेत्र के ग्राम वासियों से संपर्क किया जा रहा है उसके कारण ग्राम वासियों को भी पूरी उम्मीद है कि महाप्रबंधक यथाशीघ्र बहुप्रतीक्षित मेगा प्रोजेक्ट का शुभारंभ करेंगे ग्राम वासियों ने महाप्रबंधक को हर संभव मदद एवं सहयोग करने का आश्वासन दे रखा है ग्राम वासियों ने प्रबंधन से अपील की है कि मेगा प्रोजेक्ट में उन काश्तकारों के परिवार के सदस्यों को ही नौकरी देने में प्राथमिकता दें जो वास्तविक रूप से जमीन के मालिक हैं इस गांव के मूल निवासी हैं क्योंकि नौकरी की लालच में कई लोगों ने कूट रचित दस्तावेजों का सहारा लेकर जमीन खरीदी है ऐसे षड्यंत्र करने वालों को प्रबंधन नौकरी ना दे ताकि असली हकदारों का हक कोई ना मार पाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *