मारपीट के विरोध में उतरी युवा तरूणाई@की निष्पक्ष जांच की मांग

12 व अन्य पर एफआईआर, 10 गिरफ्तार व बाकी फरार
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने संभाला मोर्चा, भीड को नियंत्रित करती रही पुलिस
अनूपपुर। फेसबुक पोस्ट मामले में बुधवार की रात्रि से हुए विवाद को लेकर दर्जनों मुस्लिम युवाओ ने एक हिन्दु लडके को मारने का मामला बमुश्किल शंात हुआ। बुधवार रेत रात्रि तक थाने में चल रहे हलचल व मारपीट करने वालों की गिरफ्तारी की मांग के बाद गुरूवार की सुबह से नगर में रेली निकाल कर युवा संगठन ने न्याय की गुहार लगाई। युवा संगठन के द्वारा खाद्यमंत्री के साथ पुलिस अधीक्षक, कलेक्टर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के सामने अपनी बात रख पुलिस की बर्बरता व आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग की है। वही खाद्यमंत्री ने तीन दिवस का समय देकर उच्च स्तरीय जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की बात की है।
यह है मामला


कोतवाली अंतर्गत सब्जी मंडी वार्ड नंबर-5 निवासी पुष्पक पिता राजकुमार गुप्ता के द्वारा 26 अगस्त को अपने फेसबुक पेज के माध्यम से मुस्लिम समुदाय के पैगम्बर मोहम्मद के विरूद्व एक पोस्ट शेयर/अपडेट किया गया था, शाम होते-होत यह पोस्ट कुछ मुस्लिम समुदाय के युवाओं तक पहुंची, जिसके बाद कुछ युवाओं के द्वारा आदर्श मार्ग में पुष्कर को बुलाकर गाली-गलौच करते रहे, चंद मिनटो की मुलाकात मारपीट में बदल गई और 10 से 15 मुस्लिम युवाओं के द्वारा पुष्पक को मारते हुए आदर्श मार्ग से थाने तक लाया गया। इस बीच रास्ते में मारते हुए वीडियों भी वायरल हुई, जिसे हाथ से एक युवक पकडा हुआ था और कई युवक बेल्ट व हाथो से मारते हुए गुजर रहे थे। इस घटना की जानकारी पुष्पक के परिजनों व दोस्तो तक पहुंचा, जिसके बाद थाने में भीड जमा होने लगी और यह भीड सैकडों में तब्दील हो गई व कई घंटो तक नारेबाजी करते हुए मारपीट करने वालों की गिरफ्तारी की मांग करने लगे।
यह हुआ बुधवार की रात्रि


घटना दिनांक-26 अगस्त समय 20:30 बजे, एफआईआर की समय 27 अगस्त 00:04 बजे, शिकायतकर्ता नरेन्द्र प्रसाद गुप्ता निवासी रेलवे फाटक के अनुसार हमराह दीपक पटेल, शिवरतन वर्मा के साथ थाने आकर शिकायत दर्ज कराते हुए लिखा कि 26 अगस्त को करीब 8:30 बजे मोबाइल पर प्रकाश गुप्ता का फोन आया कि आपके भाई पुष्पक गुप्ता को आदर्श मार्ग में मो. अजहर, मो. सोहेल, मो. शोएब, गाली-गलौच कर रहे थे, इतने में ही मो. अंशुल, मो. अमन, मो. नजीर बेल्ट और डेंड लेकर मार रहे थे, तब तक मो. कैशर, मो. सैफ मो. सादिक ये लोग भी आकर लात, घूंसा एवं हाथ झापड से पुष्पक को मार रहे है तथा मो. आरिफ, मो. असलम, मो. आकिब सब्जी मंडी तरफ से आकर मारपीट किये एवं कुछ देर बाद अन्य साथी पेास्ट ऑफिस तरह से आकर मारपीट कर रहे है, जहां से पता करते हुए पुष्पक का भाई थाने पहुंचा और गंभीर हालत देख इलाज के लिए चिकिस्तालय में भर्ती कराया, जहां उपचार जारी है।
फेसबुक पोस्ट बनी वजह


26 अगस्त समय 21: 44 बजे वार्ड नंबर- 8 निवासी मो. अजहर पिता शेख अब्दुल्ला व मो असलम मंसूरी के साथ परवेज अली ने थाने में शिकायत दर्ज कराते हुए लिखा कि पुष्पक गुप्ता के द्वारा अपने फेसबुक एकाउंट में पोस्ट करके मुस्लिम समुदाय के पैगम्बर मोहम्मद साहब के विरूद्व आपत्तिजनक शब्दो एवं धार्मिक गं्रथ कुरान के विचारधारा को गलत बताते हुए मुस्लिम समुदाय के धार्मिक विश्वासो को अपमानित करके धार्मिक भावनाओं को आहत किया है, जिससे संप्रदाय के लोगों में आक्रोश है, एवं लोक शांति भंग होने की पूर्ण संभावना होने से थाने आया हूं और इस पर कार्यवाही की जाये। जिस पर पुलिस ने पुष्पक के ऊपर धारा 153 ए, 295 ए, 504 कायम कर एफआईआर दर्ज की है।
न्याय के लिए युवाओं की भीड
उक्त विवाद में नगर सहित आस-पास के सैकडों युवाओं ने पुष्पक के न्याय के लिए सडको पर उतर गये, इस दौरान किसी भी प्रकार की हिंसा न हो उसके लिए पुलिस बल तैनात रही, हालांकि छोटी-मोटी घटनाएं घटी, लेकिन अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में चल रही टीम ने किसी भी प्रकार की अनहोनी नही होने दी। सैकडों युवा थाने के साथ कलेक्टर कार्यालय व खाद्यमंत्री के पास पहुंच कर उचित न्याय की मांग की है, जहां पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, कलेक्टर एवं खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने तीन दिन के भीतर जांच कर कार्यवाही के आश्वासन दिये है।
पुलिस ने किया मामला कायम


दिनभर सैकडों पुलिस ने सडकों पर उतर कर न्याय की गुहार लगाते रहे, जिसके बाद पुलिस ने 10 लोगों को गिरफ्तार कर ली है, जिनमें से मो. आकिब, मो. अमन, मो. अंशुल, मो. आरीफ, मो. नजीर, मो. असलम, मो. सैफ, मो. कैशर, मो. शोएब एवं मो. अजहर के नाम शामिल है, पुलिस ने 12 व्यक्तियों के साथ अन्य पर एफआईआर दर्ज करते हुए धारा 294, 323, 506, 147, 148, 149 आईपीसी के तहत् कायम की है।
अकबर खान व यूसी मिश्रा पर लगे आरोप
इसी घटना क्रम में बुधवार की रात्रि भीड होने की वजह से पुलिस लाठी जांच भी की, जहां शिब्बू पटेल को गंभीर चोटे आई है, उसके पर तथा हाथ में पुलिस के द्वारा वार कर दिया गया, जिसके बाद पुलिस अधीक्षक को शिकायत पत्र लिखते हुए शिब्बू ने बताया कि एएसआई अकबार खान और यू.सी. मिश्रा के द्वारा माहौल को खराब करते हुए भडकाया गया और उसके बाद डंडो से सर पर वार कर दिया गया। संघर्षशील युवा संगठन के युवा नेता पीयुष पटेल सहित सभी कार्यकर्ताओं ने खाद्य मंत्री के पास पहुंच कर अकबर खान और यूसी मिश्रा को हटाये जाने के साथ ही निष्पक्ष जांच कर दोषियों के विरूद्व कार्यवाही की मांग की है।
भाजपा जिला अध्यक्ष ने की एसपी से मुलाकता
भाजपा जिला अध्यक्ष बृजेश गौतम सहित कई नेताओं ने थाने में पहुंच कर निष्पक्ष जांच कर दोषियों के विरूद्व कडी कार्यवाही की मांग की है, घटना की निदां करते हुए उन्होने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है, उन्होने कहा कि अगर किसी को दिक्कत थी तो प्रशासन को शिकायत करता है, कानून सबके लिए बराबर है, मारपीट करना उचित न्याय नही है। उन्होने कहा कि लाठी जांर्च करने वाले पुलिस वालों पर भी कार्यवाही होनी है, जहां भीड को शांत करने की वजाये और भडकाने का कार्य किया है, ऐसे पुलिसकर्मियों पर कार्यवाही उच्चाधिकारियों को करना चाहिए।
कांग्रेस ने मो. नजीर की नियुक्ति की निरस्त
मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष मुजीब कुरैशी के पास घटना की जानकारी पहुंचते ही पत्र जारी करते हुए जिला कांग्रेस अनूपपुर के प्रतिवेदन अनुसार तत्काल प्रभाव से कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग जिला अनूपपुर के अध्यक्ष पद से मो. नजीर अहमद की नियुक्ति को निरस्त करते हुए प्रतिलिपि जिला अध्यक्ष जयप्रकाश अग्रवाल को भेजी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *