मासूमों की चिता पर फिर खड़ी होने लगी बसें!

परिवहन सहित यातायात अमले का नहीं जा रहा ध्यान
हर दूसरा पेट्रोल पंप बना बसों के लिए सराय
25 जनवरी 2017 को बनी थी दो मासूमों की जिंदा समाधि

(अमित दुबे+8818814739)
शहडोल। महज तीन सालों में बस मालिक, पेट्रोल पंप संचालक सहित शहर की जनता 25 जनवरी 2017 को हुए दर्दनाक हादसे को भूलकर पुराने ढर्रे पर दौड़ती नजर आ रही है, परमिट लेते समय परिवहन को दिये जाने वाले दस्तावेजों मे बस मालिक खुद के यार्ड होने की जानकारी तो, दे-देते हैं, लेकिन खुद का यार्ड है या नहीं जमीनी स्तर पर शायद ही इसकी कभी जांच होती हो, यही वजह है कि यार्ड न होने के कारण शहर के अधिकांश बस मालिकों की बसें पेट्रोल पंपों की शोभा बढ़ाती नजर आती है, लगभग 3 साल पहले 25 जनवरी 2017 को बाणगंगा स्थित जिस पेट्रोल पंप पर अनाधिकृत तौर पर खड़ी बस में आग लग गई थी और दो मासूमों की जिंदा समाधि बन गई थी, उसी स्थान पर पुन: बसें खड़ी करवाई जा रही हैं, पुरानी घटना को भूल शायद पंप संचालक, बस मालिक और प्रशासन पुन: घटना को न्योता देता नजर आ रहा है।
चंद टुकड़ो व बिक्री की फिक्र
बस संचालकों व पेट्रोल पंप से जुड़े सूत्रों की माने तो बस मालिकों के पास बसों को खड़ा करने के लिए खुद का यार्ड न होने के कारण 100-50 रूपये प्रतिदिन का भाड़ा लेने और डीजल बेचने की लालच में पेट्रोल पंप संचालकों ने तेल कंपनियों के नियमों को भी तिलांजलि दे दी है। वहीं उन्हें इस बात की भी फिक्र नहीं की, असुरक्षित रूप से खड़ी बसें दुर्घटनाओं का कारण तो बनती ही हैं और उनके यहां खड़ा रहने से बड़ी घटना भी कारित हो सकती है।
बस अड्डे का भी यही हाल
पेट्रोल पंपों के अलावा बस मालिकों ने राजीव गांधी बस अड्डे को भी सराय बना दिया है, बीते माहों में यातायात और कोतवाली पुलिस द्वारा बस अड्डे पर खड़ी होने वाली बसों की वजह से होने वाले विवाद व अन्य कई कारणों से बसों को यहां से बाहर का रास्ता भी दिखाया था, लेकिन पुलिस के ढुलमुल रवैये के कारण हालात फिर पुरानी पटरी पकड़ चुके हैं।
यह हुआ था 25 जनवरी 2017 को
सोहागपुर थानांतर्गत बाणगंगा मैदान स्थित नाथमल पेट्रोल पंप पर खड़ी बस में 25 जनवरी 2017 बुधवार दोपहर साढ़े तीन बजे दर्दनाक हादसा हुआ, पंप में एक साल से खड़ी बस में आग लगने से दो बच्चे अऊवा (6) पिता खुद्दी वर्मा तथा आशी (3) पिता रमेश कुशवाहा जिंदा जल गए। हादसा । पंप कर्मचारी व आसपास के लोगों ने दमकल की सहायता से आग पर काबू पाया गया था। हादसे में बस के पास खड़ा एक ट्रक भी चपेट में आ गई थी, सूचना पर आईजी, कलेक्टर सहित बड़ी संख्या में अफसर पहुंचे। पुलिस ने पेट्रोल पंप संचालक समेत बस मालिक के खिलाफ मामला दर्ज कर, पीडि़त के परिजन को चार-चार लाख रुपए की मदद दिए जाने की घोषणा की है। तात्कालीन पुलिस अधीक्षक सुशांत सक्सेना ने लापरवाही पर पेट्रोल पंप संचालक नाथमल व बस संचालक बृजलाल द्विवेदी के विरुद्ध धारा 304 ए के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। वहीं कलेक्टर ने घटना की जांच के आदेश दिए थे।
इनका कहना है…
बस मालिकों के साथ पेट्रोल पंप संचालकों की यह घोर लापरवाही है, जल्द ही जांच कर नोटिस दिये जायेंगे।
आशुतोष भदौरिया
जिला परिवहन अधिकारी
शहडोल
*****
दो दिन पहले ही कोतवाली और यातायात थाने के द्वारा संयुक्त रूप से बाणगंगा तिराहे से लेकर बस स्टैण्ड होते हुए बगिया तिराहे तक पेट्रोल-पंप , बस अड्डे व सड़क पर खड़े वाहनों को हटाने की मुनादी करवाई थी, जल्द ही संयुक्त रूप से हम कार्यवाही करेंगे।
अखिलेश तिवारी
डीएसपी, यातायात शहडोल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed