मोहन ने मैडम के नाम से ली 3 लाख की रिश्वत!

Shrisitaram Patel-9977922638

रूपए मिलते ही शासन का 6 लाख रूपए की फाईल क्लोज

अनूपपुर। सोन किनारे निर्माण करने आये बाहर के ठेकेदार का पहले मोहन ने नियमो के विरूद्व निरीक्षण किया, उसके बाद कार्यवाही का भय दिखाकर उगाही शुरू कर दी। ठेकेदार को जाल में फंसाकर लाखो रूपए मांगे गये। मनमुताबिक रकम न मिलने पर नोटिशिया कार्यवाही करते हुए 6 लाख का जुर्माने के कागज थमा दिये गये। मैडम के नाम से ली रिश्वत मैडम के नाम पर कार्यवाही का भय दिखाकर और लाखों रूपए जमा कराने के फेर में श्रम अधिकारी मोहन दुबे ने तीन लाख रूपए की रिश्वत में ली और यह पैसे किश्तो में मिले गये।

पहली किश्त 1 लाख 30 हजार, दूसरी किश्त नोटिस को दफन करने के लिए 1 लाख रूपए और मैडम को देने के नाम पर 70 हजार रूपए, कुल तीन किश्तो में ठेकेदार से तीन लाख रूपए की उगाही की गई, लेकिन यह सब पूरा माजरा तीसरी आखो में कैद हो गया। हर संस्थानों से वसूली खबर है कि वर्षो से तैनात श्रम अधिकारी मोहन दुबे परचून की दुकान से लेकर बडे संस्थान और औद्योगिक संस्थानों में कार्यवाही न करने के लिए सिस्टम सेट कर रखा है और हर महीने लाखों रूपए की अवैध वसूली कथित अधिकारी के द्वारा पूरे जिलेभर में लूट की तरह की जाती है।

मैडम नही आयी सामने

जब इस पूरे मामले में श्रम पदाधिकारी संध्या ङ्क्षसह से बात करनी चाही तो उन्होने हमेशा की तरह फोन नही उठाया। पूर्व में भी इनके कार्यालय में दो बार अधिकारी और कर्मचारी रिश्वत लेते तीसरी आंख में कैद हो चुके है। सूत्र बताते है कि मैडम के संरक्षण में भी तीनो जिलो में भ्रष्टाचार की गंगा बह रही है।

इनका कहना है- मैं अभी टे्रन में हूं, कल आकर मुलाकात करता हूं।

मोहन दुबे, श्रम अधिकारी अनूपपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed