मोहब्बत को मंजिल नही मिली तो प्रेमी-प्रेमिका ने लगाई फांसी, अंतर्जातीय विवाह को लेकर परिजनों ने जताई थी नाराजगी

(सुधीर शर्मा-9754669649)

शहडोल। एक युवक और एक नाबालिग लड़की के बीच जन्मे मोहब्बत को जब मंजिल मिलती नही दिखाई दी तो दोनो ने मौत को गले लगाना ही उचित समझा और फांसी लगाकर प्रेमी-प्रेमिका ने खुदकुशी कर ली। स्कूल में पढ़ाई करते हुए दोनो के बीच प्रेम हुआ और उन्होने शादी करने का भी फैशला कर लिया लेकिन समाज की कुरीतियों ने अंतर्जातीय विवाह को मंजूरी नही दी जिसके बाद दोनो इस दुनिया को अलविदा कह गए। दरअसल यह मामला जिले गोहपारू थाना क्षेत्र के गोड़ारू गांव का है जहां के रहने वाले 19 वर्षीय युवक को पड़ोस की 16 वर्षीय किशोरी से बेपनाह मोहब्बत हो गई। लेकिन लड़के और लड़की के घर वालो यह रिश्ता पंसद नही था जिसको लेकर परिजनों ने कई बार आपत्ति जताई और मिलने जुलने से मना कर दिया। 
एक ही पेड़ में लटकती मिली लाश 
गोहपारू थाना क्षेत्र के गोड़ारू गांव में प्रेमिका और प्रेमी का घर अगल-बगल था, थाना प्रभारी सुभाष दुबे ने बताया कि 21 मई की दोपहर करीब 04 बजे दोनो अपने घर से अचानक लापता हो गए। जिनकी लाश 24 मई को गांव से सटे सोन नदी के किनारे जामुन के पेंड़ पर दो अलग-अलग डालियों में लटकती मिली है। पुलिस ने बताया कि दोनो एक ही स्कूल में पढ़ाई करते थे, जहां पर दोनो को एक-दूसरे से प्यार हो गया, प्रेमी और प्रेमिका आपस में शादी करना चाहते थे लेकिन दोनो की जाति भिन्न होने के कारण अंतर्जातीय विवाह से परिजनों को ऐतराज था। जिसको लेकर परिजनों ने दोनो को मिलने से मना करते हुए बातचीत नही करने की सलाह भी दी थी। लेकिन वे दोनो भला किसी क्या सुनते प्रेम परवान चढ़ चुका था, परिजनों ने जब एक नही होने दिया तो दोनो इस दुनिया को अलविदा कहकर अपने प्रेम को अमर कर गए। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.