रात में दुकान में सेंध लगाने की थी तैयारी

कोतवाल ने 5 आरोपियों को दबोचा

(शुभम तिवारी+91 78793 08359)
शहडोल। जिले के गोहपारू थाना क्षेत्र अंतर्गत शुक्रवार को मो. इरफान पिता स्व. शेख हफीज उम्र 34 वर्ष ने शिकायत दर्ज कराई कि वह बाजार में किराना दुकान का संचालन करता है, 02 जनवरी को अपनी दुकान बंद करके घर गया था, रात करीब 11.45 बजे मेरे दुकान के सामने शिवम गुप्ता फोन करके बताया कि आपके दुकान के पास खटपिट हो रहा है, तब मैं दुकान आकर देखा कि मेरी दुकान का ताला टूटा था एवं पिलर व दीवाल की आड़ में चार-पांच अज्ञात व्यक्ति छिपे थे, जो हम लोगों को देखकर भाग गये। जिनकी उम्र करीब 25-25 वर्ष की थी। सभी लोग एकहरा बदन के थे। फरियादी की शिकायत पर धारा 456, 511 के तहत मामला कायम कर विवेचना में लिया गया।
भागने की फिराक में था संदेही
थाना प्रभारी चिन्मय मिश्रा ने वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में विवेचना शुरू कर आरोपियों की तलाश शुरू की, मुखबिर की सूचना पर संदेही दउआ कोल जो बाहर भागने की फिराक में खड़ा था, उसे अभिरक्षा में लेकर पूछताछ की गई, जिसमें उसने अन्य आरोपियों के नाम उगल दिये।
यह भी धराये
पुलिस ने संदेही दउआ की निशानदेही पर शोभनाथ गब्बर, सरयूग, राजेश सभी निवासी करूआ को गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त लोहे की सब्बल जब्त कर न्यायालय के समक्ष पेश किया। जहां से आरोपियों को जेल भेज दिया गया।
इनकी रही भूमिका
उक्त मामले में मुख्य भूमिका सहायक उपनिरीक्षक नागेन्द्र प्रताप सिंह, एच.एन.पाण्डेय, प्रधान आरक्षक देवेन्द्र सिंह, अमृत लाल परस्ते, राय सिंह धुर्वे, राजेन्द्र तिवारी, आरक्षक मुकेश राय, रंजन राय, रामकृष्ण सोनवानी, हर्देश भदौरिया, गिर्राज कंसाना, सोनू कुमार दुबे, विकास कुमार दुबे का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed