रेलवे के निजीकरण के विरोध में लोको पायलटों ने खोला मोर्चा

Ajay Namdev- 7610528622

अपनी मांगों को लेकर भूख हड़ताल पर गए, नारेबाजी करते हड़ताल पर बैठे पायलेट 

बिजुरी। रेलवे के निजीकरण के विरोध में ऑल इंडिया लोको रनिंग स्टाफ  एसोसिएशन के बैनर तले लोको पायलटों ने मोर्चा खोल दिया है। पुरानी पेंशन सहित कई मांगों को लेकर सोमवार से 24 घंटे के लिए ट्रेन ड्राइवर भूख हड़ताल पर चले गए हैं। वो भूखे रहकर ट्रेनों का संचालन करेंगे। हड़ताल सोमवार सुबह 11 बजे उपवास के बाद से शुरू हो गई। इसी क्रम में बिजुरी रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक पर स्थित क्रु लॉबी के सामने कर्मचारी शांतिपूर्ण ढंग से उपवास रखेंगे। दरअसल माइलेज अलाउंस, वेतन विसंगति लोको पायलटों के लिए ऐसी मांगें व मुद्दे हैं, जिसे लेकर गत वर्ष देशभर के ड्राइवरों ने भूख हड़ताल की थी। उस समय ड्राइवरों ने भूखे पेट रहकर ट्रेनों को चलाया था। परए उनकी मांगों को अनसुना कर दिया गयाए जिसके बाद अब लंबित मांगों को लेकर फिर से लोको पायलटों ने मोर्चा खोल दिया है। 15 से 24 घंटे के लिए लोको पायलट भूखे पेट रहकर प्रदर्शन करेंगे, लेकिन इस बार भूख हड़ताल को लेकर रेलवे अधिकारी आशंकित हैं कि कहीं लोको पायलट ट्रेनों का संचालन भी प्रभावित न कर दें।

ये दिए गए निर्देश

इसके चलते रेलवे बोर्ड के एक्जीक्यूटिव ने सभी जोनों को आदेश दिया है कि कोई भी ट्रेन ड्राइवर सेफ्टी के नियमों का उल्लंघन न करे और सुरक्षित संचालन में सहयोग दे। बगैर सक्षम अधिकारी की परमिशन के छुट्टी पर न जाएं। साथ ही जोनल मुख्यालयों को भी यह तय करना होगा कि ट्रेन का संचालन बाधित न होने पाए। लोको पायलट नियम विरुद्घ छुट्टी पर जाएं या संचालन बाधित करें तो उनके खिलाफ  सख्त कार्रवाई की जाए। यह भी कहा कि यात्रियों की सुरक्षा से खिलवाड़ नहीं होना चाहिए।

हडताल में यह रहे मौजूद 

कार्यक्रम में अध्यक्ष कैलाश चन्द्र, कोषाध्यक्ष राकेश कुमार वर्मा, सचिव रविन्द्र नाथ के साथ दीपक कुमार सिंह, संजीव कुमार सिंह, रंजन कुमार, अमित कुमार, भगवान दिन, सुभाष कुमार, कैलाश चन्द्र, राकेश कुमार वर्मा, अक्षय कुमार सिंह, अमित रंजन, एल के पटेल, मुकेश कुमार विभूति, अनिल कुमार सिंह, मनकेश मिश्रा, गौतम कुमार, मुकेश कुमार, दीपक कुमार, बबलू कुमार, प्रवीण कुमार, अनिल कुमार, राजू पटेल और रवि रंजन कुमार मौजुद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed