वरिष्ठों को सूचना के बाद भी लडख़ड़ाई एमडीएम व्यवस्था

( सुरेश मिश्रा +91 84589 45206)
चंनौड़ी। बहगढ़ संकुल अंतर्गत करिश्मा स्वसहायता समूह द्वारा आंगनवाडी केन्द्र क्रमांक 1 और प्राथमिक विद्यालय वरटोला हथगला में भोजन ,नास्ता का जिम्मा लिये है। लेकिन यहां 10 दिनों से प्राथमिक विद्यालय वरटोला में बच्चों को समूह संचालको द्वारा भोजन नसीब नही हो रहा है। इस संबंध में रसोइया रोशनी सिंह ने बताया कि हम जब अध्यक्ष के यहां राशन लेने जाते है, बोल देते है कि अभी चावल नही है, जब आएगा तो ले जाना। समूह संचालक की मनमानी पर अभिभावक परेशान रहते है ,कोई सुनने वाला नही है। जब इसकी जानकारी प्रधानाध्यापक सुधाकर सिंह से चाही गई,तो उन्होंने बताया की समूह द्वारा सही ढंग से बच्चों को भोजन नही दिया जा रहा है। हमारे द्वारा इसकी जानकारी विभाग को समय से दे दी जाती है, कोई धयान नही दे रहा तो हम क्या करें।
आधी रोटी से चल रहा काम
वहीं पर आंगनवाडी केन्द्र क्रमांक 1 संचालित है, लेकिन बच्चों का भोजन देख कर ऐसा लगता है कि करिश्मा स्वसहायता समूह के अध्यक्ष श्रीमती कमलेश सिंह और सचिव दीपा सिंह किस कदर बच्चों के हक पर ढाका डाल रही है। जब रसोइया फूल बाई से जानकारी चाही गई,तो बताया की हमे सप्ताह में 4 किलो आटा मिलता है। 2 किलो आलू उसी को सप्ताह भर चलते है। ऐसे में बच्चों को आधी रोटी में ही काम चलाना पड़ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *