श्रीमती अनसूइया ने बढ़ाया सोहागपुर का गौरव

संतोष शर्मा


धनपुरी- लक्ष्य की शुगम प्राप्ति की दिशा में अपने कार्य को रचनात्मकता से आयाम देने वाली एसईसीएल की हर महिला अधिकारी व कर्मचारी विशेष सम्मान की हकदार है इस कड़ी में मानव संसाधन की नवीन पहल के माध्यम से सोहागपुर क्षेत्र में प्रत्येक माह एक महिला कर्मचारी को चुना जाता है और वह कहलाती है ।

इस माह का श्रीमती अनुसूईया बनी गौरव
श्रीमती अनुसूईया सोहागपुर क्षेत्र अंतर्गत रीजनल वर्कशॉप में वंडर हेल्पर के पद पर कार्यरत हैं उनके द्वारा उत्पादन के कार्य में लगे पंखे मोटर का रिवाइंडिंग एवं मरम्मत कार्य किया जाता है इसके साथ साथ 800 मीटर अंतर क्षेत्रीय दौड़ प्रतियोगिता में प्रथम स्थान एवं 400 मीटर अंतर कंपनी दौड़ प्रतियोगिता में तृतीय स्थान प्राप्त कर सोहागपुर क्षेत्र एवं एसईसीएल कंपनी को गौरवान्वित किया है जोकि कामगार महिलाओं के लिए प्रेरणा स्रोत है।

मुख्य महाप्रबंधक ने किया सम्मान
मुख्य महाप्रबंधक कार्यालय में सुबह की प्रार्थना के बाद इस माह का गौरव बनी श्रीमती अनुसूईया को मुख्य महाप्रबंधक  डीके चंद्राकर ने पुष्पगुच्छ एवं प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया इस अवसर पर मुख्य महाप्रबंधक ने कहा कि मानव संसाधन की अनूठी पहल मैत्रेई के माध्यम से अपने कार्य में रचनात्मकता देने वाले कर्मचारियों का सम्मान करना उनके लिए गर्व की बात है मुख्य महाप्रबंधक ने कहा कि ऐसे कर्मचारी जो कोयला उत्पादन के साथ-साथ अन्य सराहनीय गतिविधियों के माध्यम से अपने साथी कर्मचारियों के लिए प्रेरणा स्रोत बनते हैं वह एसईसीएल कंपनी के अनमोल रत्न है। इस माह का गौरव बनी श्रीमती अनुसूईया ने कहां की यह क्षण मेरे जीवन के अनमोल क्षण है आप सभी के द्वारा मिला यह सम्मान मुझे अपने कार्य को और भी मन लगाकर करने की हमेशा प्रेरणा देता रहेगा ज्ञात हो कि सोहागपुर क्षेत्र में मानव संसाधन की विशेष पहल मैत्रेई के माध्यम से एसईसीएल के अंतर्गत कार्य करने वाली महिलाओं का सम्मान करने की शुरुआत अगस्त माह से हुई थी एवं केंद्रीय चिकित्सालय में कार्यरत सिस्टर अंजना मैथ्यूज इस सम्मान को प्राप्त करने वाली सोहागपुर क्षेत्र की पहली महिला कर्मचारी बनी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *