सख्ती से रोके अवैध उत्खनन, परिवहन तथा भण्डारण: खनिज मंत्री

शासन का खजाना भरना सबकी जिम्मेदारी

भोपाल । खनिज साधन मंत्री प्रदीप जायसवाल ने आज विभागीय समीक्षा बैठक में खनिज अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे बेहतर काम करें और परिणाम दें तथा राज्य शासन के खजाने को भरने में सहभागी बने। राज्य सरकार के वचन-पत्र के बिन्दुओं पर प्राथमिकता से कार्रवाई करें। जन-प्रतिनिधियों की बात सुने और अवैध उत्खनन, परिवहन तथा भण्डारण को सख्ती से रोकें। श्री जायसवाल ने कहा कि हमारे प्रदेश में खनिज के अपार भण्डार हैं। खनिज अधिकारी बंद खदानों की जानकारी एकत्रित करें। राजस्व में बढ़ोत्तरी करने के लिये सभी अधिकारियों को लगन और मेहनत से कार्य करना होगा। देखने वाला समय खत्म हो चुका है, अब करके दिखाना होगा। मुख्य खनिज और गौण खनिज की अकार्यशील खदानों के संबंध में नोटिस जारी करें। खनिज विभाग द्वारा खनिज नीति, रेत नीति के संबंध में सुझाव दें। उन्होंने कहा कि बड़े ठेकेदारों को खनिज आधारित उद्योग लगाने के लिये प्रेरित करें, ताकि स्थानीय व्यक्तियों को रोजगार प्राप्त हो सके। बैठक में प्रमुख सचिव नीरज मण्डलोई ने बताया कि खनिज अधिकारी माह जनवरी से मार्च के बीच एक तिहाई वसूली कर राजस्व बढ़ायें। नई खदानों की नीलामी की कार्रवाई करें। राजस्व और वन विभाग से संबंधित प्रकरणों को शीघ्र निपटाया जाये। बैठक में सचिव नरेन्द्र सिंह परमार और संचालक विनीत कुमार आस्टिन भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *