सावधान! अजाक पुलिस अभी नींद में है

Ajay Namdev-7610528622

कैसे होगी शिकायत करने वाले आदिवासी फरियादियों की पुलिसिया जांच
अनूपपुर। कोतवाली के समीप अजाक थाना स्थापित किया गया है, जहां एसटी, एससी शिकायतकर्ता की रिपोर्ट लिखी जाती है और उसके अनुरूप कार्यवाही की जाती है, लेकिन जिले का अजाक थाना गहरी निद्रा में सो रहा है। अजाक में प्रधान आरक्षक संतोष मिश्रा पदस्त हैं जिनका कार्य थाने में कुंभकर्णीय निद्रा करना है और शिकायतकर्ताओं की जांच सिर्फ कागजो तक ही सीमित रहती है, क्योंकि संतोष मिश्रा को नींद से फुरसत कहां। कार्य मे कुशल पुलिस कर्मियों को लाइन अटैच पर रखा गया है और जिन्हें जनहित समस्याओं से कोई लेना देना नही वे थाने में पदस्त होकर गहरी निद्रा के आगोश में आम तौर पर देखें जा सकते हैं। उम्र दराज की बात कर अधिकारियों को ब्लैक मेल कर सरकार के तन्खाह पर आराम फरमा रहें हैं। आजाक थाना एसटी, एससी पीडित फरियादियों का थाना माना जाता है जहां गिने चुने शिकायत आते हैं, जिन्हें निद्रायुक्त प्रधान आरक्षक शिकायतकर्ता से शिकायत कॉपी लेकर चलता कर देतें हैं। अब ऐसे में आजाक थाने में आवश्यक काम पूरा रहें कैसे, इसलिए अपराधी अपराध करने में चुस्त हैं और आजाक थाने के पुलिसकर्मी सुस्त पडकर गहरी नींद में मस्त हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *