……………………… साहब अब तो राशन दिला दो, कलेक्टर से शिकायत कर की राशन पूर्ण दिलाने की मांग

Ajay Namdev-7610528622

शौचालय की जगह पंचायत के जनप्रतिनिधि ने पकडाई 500 की राशि

अनूपपुर। मंगलवार को जनसुनवाई की आस में अपनी समस्या लेकर पुष्पराजगढ़ जनपद पंचायत के करौंदीपानी गांव से आए आधा सैकड़ा ग्रामीणों को उस समय निराश हाथ लगी, जब आचार संहिता के कारण जनसुनवाई कार्यक्रम अगले आदेश तक स्थगित रही। इसके बाद सभी ग्रामीणों ने अपनी समस्याओं को आवक जावक विभाग को सुपुर्द कर अपनी समस्या जल्द निराकरण की मांग की।
कम खाद्यान्न देता है सेल्समैन- ग्रामीण
ग्रामीणों का कहना था कि हमें समग्र आईडी व राशन कार्ड के अनुसार खाद्यान्न उठाव के लिए पात्रता पर्ची दी गई है, लेकिन पंचायत का सेल्समैन प्रतिमाह हमारे लिए आवंटित खाद्यान्नों में आधा से अधिक कमी कर जाता है। जबकि बीपीएल राशन कार्ड पर आवंटन 35 किलो खाद्यान्न है, लेकिन खाद्यान्न उठाव के दौरान सेल्समैन 15 किलोग्राम खाद्यान्न देता है। वहीं राशन कार्ड पर पूरा उठाव को दर्शा देता है, इसकी शिकायत करने पर खाद्यान्न नहीं देने की धमकी देता है। ग्रामीणों ने अपने राशन कार्ड की कुछ प्रतियों को भी शिकायत पत्र के साथ संलग्न प्रशासन के समक्ष रखी है।
हितग्राहियों के नहीं बने शौचालय
इसी तरह गांव की एक अन्य शिकायत भी सामने आई, जिसमें ग्रामीणों ने ग्राम पंचायत द्वारा शौचालय निर्माण के लिए 500-500 की राशि देते हुए अबतक पूरी राशि नहीं देने की बात कही। ग्रामीणों का कहना था कि पैसे के अभाव में ग्रामीणों ने अबतक अपना शौचालय निर्माण कार्य भी पूरा नहीं करा सकें है। कई बार शिकायत लेकर सरपंच व सचिव के चक्कर लगा चुके हैं लेकिन अबतक शौचालय निर्माण नहीं कराया गया है।
अब तक नहीं दी गई पात्रता पर्ची
तिलोत्मा नेटी निवासी वार्ड क्रमांक 10 शांतिनगर अनूपपुर ने खाद्यान्न विभाग से शिकायत करते हुए बताया कि उसकी माता झूलाबाई नेटी पति रामप्रलाद सिंह नेटी के नाम से बीपीएल राशन कार्ड बना हुआ है। समग्र परिवार आईडी कार्ड एवं राशन में दर्ज सभी सदस्यों के नामों के बावजूद नगरपालिका द्वारा हमें राशन नहीं दिया जा रहा है। खाद्यान्न नहीं मिलने के कारण गरीबी की हालत में परिवार का भरण पोषण में परेशानी आ रही है। इस संबंध में हमने कई बार नगरपालिका कार्यालय का चक्कर लगाया, लेकिन पात्रता पर्ची नहीं मिली है जबकि परिवार में छह सदस्य हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed