सोहागपुर क्षेत्र में शीघ्र तैनात होगा राज्य औद्योगिक सुरक्षा बल !

(Santosh Sharma)
धनपुरी- सोहागपुर क्षेत्र में कोयला एवं कबाड़ चोरों ने प्रबंधन की नाक में दम कर रखा है आए दिन क्षेत्र की खदानों में चोरों के द्वारा केबल काटना मशीनों के महंगे पार्ट्स चुराना तैनात सुरक्षाकर्मियों के साथ मारपीट करना एवं सैकड़ों की संख्या में खदानों में घुसकर कोयला चोरी करना आम हो गया है जिसके कारण प्रबंधन को प्रति माह लाखों रुपए का नुकसान उठाना पड़ रहा है बीते 6 माह से सोहागपुर क्षेत्र में चोरी की इन घटनाओं का अनुपात तेजी से बढ़ा है सोहागपुर क्षेत्र के मुख्य महाप्रबंधक ने इस समस्या की ओर पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों का भी ध्यान आकर्षित कराया लेकिन परिणाम ढाक के तीन पात वाला ही रहा चोरी की घटनाओं के बाद स्थानीय धनपुरी एवं अमलाई पुलिस महज कोरम पूरा करने वाली कारवाही ही करती नजर आती है
शीघ्र तैनात होगा राज्य औद्योगिक सुरक्षा बल- सोहागपुर क्षेत्र अंतर्गत खदानों में होने वाली चोरी की घटनाओं को रोकने के लिए शीघ्र ही राज्य औद्योगिक सुरक्षा बल तैनात होगा सोहागपुर क्षेत्र के वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारी राजेश चौधरी ने जानकारी देते हुए बताया कि सोहागपुर क्षेत्र की खदानों की सुरक्षा के लिए शीघ्र ही राज्य औद्योगिक सुरक्षा बल के 170 जवान तैनात किए जाएंगे इन जवानों के तैनात हो जाने के बाद निश्चित ही सोहागपुर क्षेत्र में खदानों में चोरी करने वाले कोयला एवं कबाड़ चोरों के हौसले पस्त हो जाएंगे।
अमलाई ओसियम एवं शारदा माइंस में चोरी की घटनाओं से परेशान प्रबंधन- इस वर्ष प्रबंधन को चोरी की घटनाओं से सबसे ज्यादा नुकसान अमलाई ओसियम एवं शारदा माइंस से हुआ है अमलाई ओसीएम खान प्रबंधक की लापरवाही से बार-बार ओसीएम की केबल काटना चोरों के लिए आसान हो गया इस वर्ष अमलाई ओसियमम मे चोरी की दर्जनों घटनाएं हो चुकी हैं इसी तरह शारदा ओशियम में सैकड़ों की संख्या में हथियारों से लैस होकर कोयला चोर खुलेआम चोरी करते हैं कोयला चोरों के हौसले इतने बुलंद हो चुके हैं की कोयला उत्पादन करने वाली मशीनों को बंद करके उन्हें नुकसान पहुंचा कर कोयला चोरी की जाती है।
स्थानीय पुलिस के रवैए से परेशान प्रबंधन- सोहागपुर क्षेत्र अंतर्गत संचालित खदानों में लगातार हो रही चोरी की घटनाएं पुलिस के द्वारा क्षेत्र में शांति एवं अपराध पर नियंत्रण के दावों की कहानी खुद-ब-खुद बयान करती है एक ओर लगातार खदानों में केबल चोरी की घटना होती जा रही है लेकिन स्थानीय पुलिस के द्वारा चोरी की एक भी घटना का खुलासा न कर पाना समझ से परे है पूरे क्षेत्र में चोरी के कोयले से अवैध ईट भट्टे संचालित होते हैं तो कुकुरमुत्तो की तरह जगह-जगह कबाड़ की दुकान संचालित है जहां सोहागपुर क्षेत्र के अंतर्गत संचालित खदानों के मशीनों के पार्ट्स खुलेआम खरीद एवं बेचे जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *