स्मार्ट सिटी कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारी व इंजीनियर में मारपीट @ थाने में तीन पर दर्ज हुआ प्रकरण एक शिकायत की चल रही जांच

(अनिल लहँगीर)
शहडोल/अनूपपुर अमरकंटक मिनी स्मार्ट सिटी का काम देख रही कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारी और स्मार्ट सिटी के कंसलटेंट इंजीनियर के बीच मारपीट का मामला सामने आया है दोनों पक्ष की ओर से अमरकंटक थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है इंजीनियर की शिकायत पर ठेकेदार के कर्मचारी सहित तीन पर मामला पंजीबद्ध किया गया है वहीं ठेकेदार के कर्मचारी की शिकायत पर पुलिस जांच कर रही है कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारी सुशील शुक्ला का आरोप है कि इंजीनियर ने बिल पास कराने के लिए रिश्वत की मांग की थी मना करने पर गाली गलौज करते हुए मारपीट की शुक्ला की शिकायत के अनुसार 10 जून को कंसलटेंट इंजीनियर शिव नारायण मिश्रा उसके घर पहुंचे और एक निजी होटल में आने के लिए कहा जब वह होटल पहुंचा तो उन्होंने कहा कि मुझे कुछ पैसा दिलवा दो तो हम तुम्हारा बिल पास कर देंगे जिसके बाद दोनों के बीच में कहासुनी हुई और मामला मारपीट तक जा पहुंचा इधर 11 जून की देर शाम इंजीनियर शिव नारायण मिश्रा ने भी थाने में शिकायत दर्ज कराई उनका कहना था कि जब वह होटल में विश्राम कर रहे थे तभी सुशील शुक्ला अपने तीन साथियों के साथ पहुंचा और उसके साथ मारपीट की पुलिस ने मेडिकल के पश्चात सुशील शुक्ला व तीन अन्य आरोपियों के विरुद्ध धारा 294 323 506 का मामला पंजीबद्ध कर लिया है


*दिसंबर में पूरा होना था काम अब तक नहीं हुआ*
वर्ष 2016 में नर्मदा सेवा यात्रा के दौरान अमरकंटक पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमरकंटक को मिनी स्मार्ट सिटी की सौगात दी थी इसका ठेका अरुण कंस्ट्रक्शन कंपनी को मिला है मिनी स्मार्ट सिटी का कार्य 31 दिसंबर 2019 तक पूरा हो जाना था लेकिन अभी तक काम पूरा नहीं हुआ है बिल का भुगतान नहीं होने पर ठेकेदार ने बीते 3 माह से निर्माण कार्य भी बंद कर दिया है पिछले दिनों केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल की बैठक में भी स्मार्ट सिटी का मामला उठा था
*इनका कहना है*
दोनों पक्षों की ओर से शिकायत दी गई है एक शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया है दूसरे पक्ष की शिकायत की जांच के पश्चात मामला पंजीबद्ध किया जाएगा किरणलता केरकट्टा पुलिस अधीक्षक अनूपपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *