थाना कोतवाली में रेनॉल्ट ट्राइबर कार से गांजा की तस्करी करते 03 आरोपी गिरफ्तार, आरोपियों के कब्जे से 25.6 किलो गांजा जप्त,कीमत 2,56,000/- रुपये गांजा तस्कारी में प्रयुक्त रेनॉल्ट ट्राइबर कार कीतम 08 लाख रुपये जप्त, 

गिरीश राठौर

अनूपपुर/ 20 नवंबर दिन रविवार को अति.पुलिस अधीक्षक अनूपपुर को मुखबिर से प्राप्त सूचना हुई की अनूपपुर जिले में गांजा का एक बड़ा खेप राजेंद्रग्राम से अनूपपुर की ओर आने वाला है।

इस सूचना को अति.पुलिस अधीक्षक अनूपपुर द्वारा गंभीरता से लेते हुये प्रभारी कोतवाली के नेतृत्व में विषेष टीमें गठित कर, राजेंद्रग्राम से अनूपपुर आने वाले मार्ग में सूचना की तस्दीक करने हेतु निर्देषित किया गया है। राजेंद्रग्राम से अनूपपुर की ओर किरर घाट के पास वाहनों की जाॅच प्रारंभ की गई, इसी दौरान संदिग्ध वाहन रेनाल्ट ट्राइबर आता दिखाई दिया, जिसे नाकाबंदी कर रोका गया जिसमें 03 व्यक्ति बैठे हुये थे, उक्त वाहन की तलाशी लिए संदेहियों द्वारा अपना नाम क्रमशः 1. राजकुमार गुप्ता पिता ईश्वर प्रसाद गुप्ता निवासी गोहपारू, 2. शिवम पटेल पिता दिनेश प्रसाद पटेल निवासी कछौहा मानपुर जिला उमरिया,3. गोलू और राजकमल कुशवाहा पिता रावेंद्र कुशवाहा निवासी गोहपारू जिला शहडोल बताया। वाहन की तलाशी लेने पर कार की डिक्की में बोरी में भूरे रंग का टेप लपेटे हुए अवैध मादक पदार्थ गाँजा लोड था, जिसका कुल वजन 25 किलो 600 ग्राम जिसका कीमत 2,56,000/- रू. का गांजा रखा हुआ पाया गया।

उक्त घटना पर थाना कोतवाली मेंअवैध मादक पदार्थ गांजा की तस्करी करने पर एनडीपीएस एक्ट की धारा 8/20 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया हैएवं अवैध मादक पदार्थ गांजा के तस्करी में प्रयुक्त रेनॉल्ट ट्राइबर कार कीमत 08 लाख रुपये को भी जप्त किया गया है। प्रारंभिक पूंछतांछ में यह तथ्य सामने आया है कि आरोपी उड़ीसा से गांजे का खेप लेकर बिक्री करने हेतु जिला अनूपपुर के रास्ते मानपुर जा रहे थे।

विषेष टीम के द्वारा आरोपियों से गांजा के स्त्रोत एवं खतप के संबंध में विस्तृत पूछताछ की जा रही है।

नषे के विरुद्ध की गई इस प्रभावी कार्यवाही से गांजे के अवैध कारोबार में निष्चित रूप से अंकुष लगेगा।

सम्पूर्ण कार्यवाही में अति0 पुलिस अधीक्षक अनूपपुर श्री अभिषेक राजन के निर्देषन में एसडीओपी अनूपपुर सुश्री कीर्ति बघेल के मार्गदर्षन में थाना कोतवाली के उप निरीक्षक त्रिलोक वालरे, सहायक उपनिरीक्षक सुरेंद्र सिंह, के साथ कोतवाली के स्टॉप एवं सायबर सेल प्रभारी आर. राजेन्द्र अहिरवार, पंकज मिश्रा, राजेन्द्र केवट, मोहित श्रीवास्तव का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.