10 घंटे की बारिश ने मचाई तबाही, किसानों की उम्मीदों पर फिरा पानी

10 घंटे की बारिश ने मचाई तबाही, किसानों की उम्मीदों पर फिरा पानी

वेंकटनगर। मंगलवार शाम से हो रही लगातार बारिश से वेंकटनगर क्षेत्र से गुजरी अलान और तिपान नदी के दोनों तटो पर स्थित किसानों की फसल नदी में आयी बाढ़ के कारण बर्बाद हो गयी। दर्जनों गांवों का आवागमन नदी में आयी बाढ़ के कारण बंद रहा। इस बरसात की सबसे तेज बारिश वेंकटनगर वासियों की माने तो मंगलवार शाम की है। वैसे तो बीते वर्षो की अपेक्षा इस वर्ष बारिश मौसम विभाग के अनुसार सामान्य ही रही है। मंगलवार की शाम से शुरू हुई बारिश की बौछार जिले के सभी क्षेत्रो में रही। खासतौर से वेंकटनगर में तबाही का मंजर देखा गया। यहां अलान और तिपान नदी के दोनों तटो पर लहलहा रही धान की फसल पानी भर जाने के कारण बर्बाद हो गयी। कुल मिलाकर क्षेत्र में अन्नदाता की मेहनत पर पानी फिर गया l

ढहे ग़रीबो के आशियाने

तेज बारिश के कारण न केवल फसले ही बर्बाद हुई बल्कि किसानों के नदी तट पर बने आशियाने बाढ़ के कारण ढह गए। जिससे किसानों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

पुलिस प्रशासन हुआ सतर्क

तिपान और अलान नदी पर आयी बाढ़ के बाद वेंकटनगर चौकी प्रभारी एस एन शुक्ला अपने दल बल के साथ नदी पर डटे हुए है। कोई अप्रिय घटना न घटे इसके लिए लोगो को नदी पार न करने व अनावश्यक भीड़ न लगाने की सलाह दी जा रही है। अलान नदी पर आयी बाढ़ से दर्जनों गांव का संपर्क टूट गया है और आवागमन भी बंद हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *