100 डायल ने भटक रहे वृद्ध को परिजनों तक पहुंचाया

Ajay Namdev-7610528622
अनूपपुर। ”जाको राखे साइयां, मार सके ना कोय” यह दोहा रामबली लोधी उम्र 50 वर्ष निवासी फतेहपुर उत्तरप्रदेश जो कई महीनों से मानसिक रूप से ग्रसित होकर बिजुरी क्षेत्र के गलियों में अपने घर वापस जाने की आस लिए भटक रहा था। 05 नवम्बर को 100 डायल की ड्यूटी में तैनात आरक्षक मोहित श्रीवास्तव के पास सूचना मिली कि एक वृद्ध व्यक्ति बेहोश अवस्था में ग्राम बेलिया में रोड के किनारे पड़ा है, जिस पर आरक्षक मोहित श्रीवास्तव और पायलट राजेन्द्र शुक्ला ने तत्काल मौके पर पहुंचकर उस वृद्ध को अस्पताल ले जाकर उसका इलाज करवाया और कई दिनों से भूखे उस वृद्ध को खाना खिला के उसके बारे में जानकारी ली। उस वृद्ध के द्वारा स्वयं का नाम रामबली लोधी निवासी निवासी फतेहपुर उत्तरप्रदेश का होना बताया पर मानसिक स्थिति ठीक न होने के कारण वह ब्यक्ति यहां कब और कैसे आ गया इसकी जानकारी देने में सक्षम नहीं था। तब आरक्षक मोहित द्वारा रामबली की सूचना फतेहपुर थाने में दी गई जिससे पता चला कि उक्त व्यक्ति 16 मई से अपने घर फतेहपुर से निकला है जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट उसके परिजनों के द्वारा फतेहपुर थाने में कि गई है। इस बात की जानकारी आरक्षक मोहित श्रीवास्तव के द्वारा थाने में अपने वरिष्ठ अधिकारियों को और उस वृद्ध के परिजनों को दी गई। जिस पर फतेहपुर से आये उस के परिवारजनो को थाना बिजुरी के द्वारा उस वृद्ध की शिनाख्त कर सुपुर्द किया गया, उक्त व्यक्ति के परिजनों ने बिजुरी पुलिस का आभार जताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed