3 सप्ताह बीते, खुलेआम घूम रहा अपहरण- बलात्कार का आरोपी

आदिवासी किशोरी का 1 वर्ष तक लगातार किया दैहिक शोषण
अमलाई थाने में दर्ज हुआ था मामला, चचाई पुलिस कर रही विवेचना

(Amit Dubey-8818814739)
शहडोल। अनूपपुर जिले के चचाई थाना अंतर्गत रहने वाली 19 वर्षीय किशोरी ने 28 अगस्त को अमलाई थाना क्षेत्र के टिकुरी टोला में रहने वाले भारत केवट पिता रामलाल केवट के खिलाफ दैहिक शोषण की शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने तत्काल ही शिकायत लेने के बाद भारतीय दण्ड विधान की धारा 366, 376, 376 (2) (एन) ताहि 3 (2) (5) एससी/एसटी एक्ट के तहत अपराध कायम किया, चूंकि युवती चचाई थाना क्षेत्र की निवासी थी, इसलिए मामले को शहडोल जिले के अमलाई थाने से अनूपपुर जिले के चचाई थाने में भेज दिया गया, मामला दर्ज हुए करीब 3 सप्ताह बीत चुके हैं, इस दौरान चचाई पुलिस ने सिर्फ 11 सितम्बर को युवती को पत्र भेजकर माननीय न्यायालय में उसके बयान पंजीबद्ध करवाये, गंभीर धाराएं होने के बाद भी चचाई पुलिस खुलेआम घूम रहे आरोपी को नहीं पकड़ पाये, जबकि युवती का आरोप है कि इस दौरान वह कई बार थाने जाकर आरोपी के द्वारा दी जा रही धमकियों और उसे गिरफ्तार करने की गुजारिश कर चुकी है।
प्रेम में युवती का सबकुछ लुटा
पुलिस को दिये गये बयान में युवती ने बताया कि वह बीते वर्ष कक्षा 10 वीं में पढ़ती थी, इसी दौरान पड़ोसी जिले के ग्राम बकहो अंतर्गत टिकुरी टोला में रहने वाले भरत के संपर्क में आई, दोनों की बीच प्रेम परवान चढ़ा, अगले वर्ष वह 11 वीं वह फेल भी हो गई, दूसरी तरफ भरत ने युवती को धोखे में रखकर चोरी छुपे ब्याह भी रचा लिया, लेकिन उससे प्रेम और उसके घर आना-जाना नहीं छोड़ा, यह बात जब युवती के परिवार वालों को लगी तो दूसरी जाति का होने के कारण पहले उससे अलग होने की समझाईश दी गई और जब वह नहीं मानी तो नाना-नानी ने उसे घर व गांव से ही निकाल दिया। युवती वर्तमान में शहडोल जिले के ग्राम बंडी में अपने रिश्तेदार के यहां शरण लेकर रह रही है, इसी बीच युवती को उसकी शादी होने की खबर लगी, साथ ही युवक भी उससे किनारा करने लगा, दोनों में विवाद बढ़ा तो युवक ने उससे दूरियां बढ़ा ली। चारों तरफ से परेशान होकर युवती ने 28 अगस्त को अमलाई थाने में जाकर पूरी व्यथा बताते हुए युवक के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध करा दिया।
दो बार कराया था गर्भपात
पीडि़त किशोरी ने अपनी व्यथा बताते हुए कहा कि करीब एक से डेढ़ साल तक लगातार युवक उसके साथ दैहिक संबंध बनाता रहा, इस दौरान 2 बार गर्भ ठहरने पर उसे कोई दवाई देकर गर्भपात भी करवाया, प्रेम के झांसे में युवती ने इस दौरान युवक को घूमने के लिए पल्सर बाई,मोबाइल हैण्ड सेट और उसके महंगे शौकों को पूरा करने के लिए घर से रूपया चोरी कर खर्च भी किया। ग्राम डोंगरिया के नागरिक इस बात के गवाह हैं कि गांव में चल रहे समूहों से किस्त उठाकर युवती ने बेवफा आशिक के ऊपर लुटा दी, जिसका विवाद चचाई थाने तक भी पहुंचा था। युवती जब तक उसके ऊपर पैसे खर्च करती रही, तब तक वह उसका बना रहा, रूपये खत्म होते ही उसने किनारा कर लिया।
देश-भक्ति, जनसेवा भूली पुलिस
आदिवासी किशोरी को शादी का झांसा देकर लगातार कथित युवक उसकी अस्मत से खेलता रहा, मामला थाने पहुंचने के बाद भी उसे न्याय नसीब नहीं हुआ, चचाई पुलिस ने 28 अगस्त को मामला तो कायम कर लिया, लेकिन खबर है कि कथित युवक का पिता कालरी में कर्मचारी है और उसके द्वारा संबंधित पुलिस अधिकारियों की सेवा की गई है, जिस कारण एसटी-एसी एक्ट के साथ बलात्कार और अपहरण जैसा गंभीर मामला कायम होने के बाद भी खुलेआम घूम रहे युवक को चचाई पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पा रही है, वहीं युवती का आरोप है कि वह अपने मित्रों के माध्यम से लगातार मामले में समझौता करने की धमकी दे रहा है, उसके सेल फोन पर नये-नये नंबरों से कॉल आ रहे हैं, जिससे युवती भयभीत है।
इनका कहना है…
अपराध कायम हुआ है, जल्द ही युवक की गिरफ्तारी कर ली जायेगी।
आर.बी.सोनी
थाना प्रभारी, चचाई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *