30 दिसम्बर को कलेक्टर सोनिया मीना करेंगी सीटी स्कैन सेन्टर का शुभारंभ

 

जिला चिकित्सालय में मिलेगी कम शुल्क पर सीटी स्कैन की सुविधा

 

जिला चिकित्सालय में भर्ती मरीजों को मिलेगा लाभ

कोरोना संक्रमण काल के पूर्व से लेकर अब तक लगातार जिला चिकित्सालय को अपडेट करने के साथ ही संसाधनों और सुविधाओं से लेस किया जा रहा है। अस्पताल में 2 ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना के प्रयास के साथ ही अब सीटी स्कैन मशीन की सुविधाएं प्रारंभ की जा रही हैं। 30 दिसम्बर से जिला अस्पताल में जरूरतमंद भर्ती मरीजों को कम कीमतों पर सीटी स्कैन की सुविधा मिलेगी। अस्पताल में सीटी स्कैन सेंटर को संचालित करने के लिए आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर ली गई हैं। सीटी स्कैन सेंटर का संचालन जनभागीदारी से किया जाएगा। जिले में मिलने वाली सुविधा को लेकर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एस.सी. राय ने बताया है कि सीटी स्कैन सेंटर का शुभारंभ 30 दिसम्बर को अपरान्ह 12ः30 बजे कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी सुश्री सोनिया मीना द्वारा किया जाएगा।

 

चिकित्सालय में भर्ती मरीजों को मिलेगी सुविधा

 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एस.सी. राय ने बताया है कि सीटी स्कैन सुविधा का लाभ जिला चिकित्सालय में भर्ती मरीजों को दिया जायेगा। वहीं ट्रामा सेंटर में आने वाले एक्सीडेंटल केस में मरीज को यह सुविधा चिकित्सक की सलाह पर दी जाएगी। उन्होंने बताया कि जिला चिकित्सालय को प्राप्त हुई मशीन लेटेस्ट अपडेट वर्जन की है। उन्होंने बताया कि मषीन के इंस्टालेशन का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। जनभागीदारी से चलने वाले सीटी स्कैन सेंटर को निजी सेंटर की तर्ज पर सर्व सुविधायुक्त बनाया गया है, जिसमें स्टॉफ की व्यवस्था रहेगी जो पूरे दायित्वों को संभालेंगे। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण काल के दौरान सिटी स्कैन की कमी को महसूस करते हुए शासन द्वारा जिला चिकित्सालय को सीटी स्कैन मषीन की सौगात दी गई है।

 

एक दिन में है 200 सीटी स्कैन की है क्षमता

 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एस.सी. राय ने बताया है कि जिला चिकित्सालय में लगाई गई सीटी स्कैन मशीन में एक दिन में 200 लोगों की जांच की जा सकेगी। यह मशीन पूरी तरह साउण्ड प्रूफ है। मशीन 24 घंटे एक्टिव मोड में रह सकती है। इसके तापमान को मैनटेन करने के लिए एसी लगाए गए हैं। वहीं जांच के दौरान पॉवर ऑफ होने पर भी मशीन को पॉवर सप्लाई के लिए यूपीएस लगाया गया है। यह यूपीएस करीब 3 से 4 घंटे बिजली सप्लाई से पांच लोगों की सीटी स्कैन कर सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed