हिनौता गांव के महानदी पुल के पास बोरे के अंदर मिलीयुवक की सिर कटी लाश,हत्या का मामला दर्ज

हिनौता गांव के महानदी पुल के पास बोरे के अंदर मिलीयुवक की सिर कटी लाश,हत्या का मामला दर्ज

 

 

कटनी। जिस युवक के आने की आश को लेकर परिजन पंद्रह दिनों से दर-दर की ठोकरें खा रहे थे। आरोपियों ने उस युवक को निर्मम तरीके से मौत के घाट उतारते हुए शव को बोरी में भरकर महानदी की धार में फें क दिया था। विजयराघवगढ़ थाना अंतर्गत वार्ड नंबर 6 निवासी युवक की लाश हिनौता गांव के महानदी पुल के पास बोरे के अंदर मिली है। युवक अपने घर से करीब 15 दिन से लापता था।  शनिवार सुबह जब एक ग्रामीण थाने से करीब चार किलोमीटर दूर नदी में उतरा तो बोरे में संदिग्ध शव होने की सूचना पुलिस को दी। शव मिलने की खबर से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सूचना पर पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी, एसडीओपी शिखा सोनी और थाना प्रभारी सुधाकर बारस्कर बल के साथ यहां पहुंचे। शव की पहचान विजयराघवगढ़ निवासी अभिषेक ताम्रकार उम्र 30 वर्ष के रुप में की गई है। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज करते हुए संदेहियों को हिरासत में लेते हुए पूछताछ शुरु कर दी है।

दो हिस्सों में रहा शव-

शव को गले से अलग कर दिया गया था। बोरे के अंदर गले से नीचे का हिस्सा रहा और गले के ऊपर का हिस्सा पानी में ही पड़ा रहा। शव पूरी तरह से गल चुका था।निस्तार के लिए गए चंदीदीन पाल निवासी भीमपार की सूचना पर जब मौके पर अधिकारी पहुंचे तो जिस जगह पर बोरे में बंद शव पड़ा हुआ था। वहां पर पक्षी मंडरा रहे थे। संभावना व्यक्त की जा रही है कि पहले तो आरोपियों ने धारदार हथियार से सिर को धड़ से अलग किया। इसके बाद पुल के ऊपर से ही नदी में शव फेंक दिया।

अनहोनी की जताई थी आशंका-

लाश मिलने की सूचना पर पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी मौके पर पहुंचे थे। जहां पर मौका मुआएना करने के बाद उन्होंने पुलिस अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं। पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी ने बताया कि इस मामले में प्रथम दृष्टया हत्या का प्रकरण अज्ञात आरोपियों के खिलाफ दर्ज किया गयाा है। परिजनों ने पहले ही अनहोनी की आशंका व्यक्त की थी। 29-30 जनवरी की रात युवक का विवाद पड़ोस में ही रहने वाले युवाओं से हुआ था। इसके बाद वह अचानक गायब हो गया। मृतक अभिषेक ताम्रकार पन्ना जिले का रहने वाला था। वह विजयराघवगढ़ में अपने नाना के घर में रहता था। पन्ना और विजयराघवगढ़ में जब युवक का पता नहीं चला तो परिजनों ने थाने में अनहोनी की आशंका जताते हुए शिकायत दर्ज कराई थी। तीन दिन पहले परिजन लापता युवक का पता लगाने की मांग को लेकर पुलिस अधीक्षक कार्यालय भी पहुंचे थे।

हिरासत में संदिग्धों को लिया-

पुलिस ने इस मामले में कुछ संदिग्धों को भी हिरासत में लिया है। पुलिस का कहना है कि जांच की जा रही है। संदेहियों से पूछताछ भी जारी है। पूछताछ होने के बाद ही वास्तविक कारणों का पता चल पाएगा। शरीर में जगह-जगह चोट के निशान भी मिले हैं।

इनका कहना है-

लाश मिलने के मामले में पुलिस ने हत्या का मामला कायम कर लिया है। थाने को निर्देश दिए गए हैं कि जल्द ही इस मामले में कारणों का पतासाजी करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार करें।

– मयंक अवस्थी, एसपी

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *