अभाविप ने विरोध प्रदर्शन कर छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री का पुतला फूँका

शहडोल।छत्तीसगढ़ कवर्धा में हुए नाबालिग जनजाति 14 वर्ष की छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार के मामले में जब पुलिस के रवैये पर सवाल खड़े होने लगे तब छत्तीसगढ़ एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने उस नाबालिक को न्याय दिलाने के लिए संवैधानिक तौर पर छात्रा को न्याय दिलाने लिए आवाज़ उठाई तो छत्तीसगढ़ की नाकारा सरकार के द्वारा समस्त कार्यकर्ताओं को गैर जमानती वारंट लेकर जेल में डाल दिया जिसके विरोध में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद शहडोल के कार्यकर्ताओं ने शहडोल शहर के मुख्य चौराहे गाँधी चौक पर छात्रा को न्याय दिलाने व कार्यकर्ताओं को तुरंत रिहा करने की मांग को लेकर विरोध व धरना प्रदर्शन करते हुए छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का पुतला जलाया।

धरने में नगर मंत्री सौरभ द्विवेदी ने बताया —
की छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री जी ने इस घटना पर कोई ध्यान नहीं दिया, साथ ही जिस बहन के साथ अन्याय हुआ है उसे ही गलत साबित करने का प्रयास क्यों किया जा रहा है, एवं जब विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने घटना का विरोध कर छात्रा को न्याय दिलाना चाहा तो उनके साथ छत्तीसगढ़ सरकार की पुलिस ने लाठी डंडे बरसते हुए गैरजमानती वारंट पर जेल में डाल दिया,जो सरासर अन्याय है।

धरना व विरोध प्रदर्शन में अभाविप शहडोल के अरुणेन्द्र पाण्डेय,सौरभ द्विवेदी,डॉक्टर सिंह मार्को,शिवम वर्मा,अभिषेक गुप्ता,आकाश कुशवाहा,अभिषेक यादव,ध्रुव सोनी,अंकुर प्रताप सिंह,अमित यादव,विहान सिंह,अभिषेक सिंह,पुष्पराज सिंह मार्को,मनोज जायवाल,सुभाम त्रिपाठी,राम त्रिपाठी आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *