अपर कलेक्टर ने किया जिला अभिलेखागार का निरीक्षण

निर्धारित समयावधि में नागरिकों को अभिलेखों की प्रमाणित प्रतिलिपियां प्रदाय करें-अपर कलेक्टर श्री पंचोली
(शशिकांत कुशवाहा)
सीधी : अपर कलेक्टर हर्षल पंचोली द्वारा जिला अभिलेखागार का आकस्मिक निरीक्षण अवलोकन किया गया। दस्तावेजों के व्यवस्थित संधारण नहीं होने पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्होने सभी दस्तावेजों के व्यवस्थित संधारण के कडे़ निर्देश दिए हैं। एक सप्ताह के अन्दर व्यवस्थाओं में सुधार नहीं होने पर लापरवाह अधिकारियों एवं कर्मचारियों के विरूद्ध कड़ी अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी।

लोक सेवा केन्द्रों के माध्यम से प्राप्त करें आवेदन-अपर कलेक्टर

अपर कलेक्टर श्री पंचोली ने स्पष्ट किया है कि अभिलेखों के नकल के आवेदन लोक सेवा केन्द्रों के माध्यम से ही प्राप्त किए जायेंगे। अभिलेखागार में कोई भी आवेदन सीधे नहीं प्राप्त किए जायेंगे। अपर कलेक्टर ने निर्देशित किया है कि लोक सेवा केन्द्रों के माध्यम से प्राप्त आवेदनों को उसी दिन जिला अभिलेखागार को प्रदाय किया जायेगा तथा अभिलेखागार द्वारा नकल तैयार कर निर्धारित समयावधि के भीतर लोक सेवा केन्द्र को प्रदाय करेंगें। उन्होने इससे संबंधित दस्तावेजों का दिनांकवार व्यवस्थित संधारण के निर्देश दिए हैं।

लोक सेवा केन्द्रों के माध्यम से मिलेंगी अभिलेखों की प्रमाणित प्रतिलिपि

अपर कलेक्टर श्री पंचोली ने बताया कि आम नागरिकों की सुविधा को ध्यान रखते हुए शासन द्वारा राजस्व विभाग की प्रमुख सेवाएं लोक सेवा केंद्र के माध्यम से प्रदान करने की व्यवस्था की है। चालू खसरा, चालू नक्शा, भू- अधिकार एवं ऋण पुस्तिका का प्रथम बार प्रदाय, भू-अधिकार ऋण पुस्तिका का द्वितीय प्रति प्रदाय, राजस्व न्यायालय (राजस्व मंडल को छोड़कर) में प्रचलित प्रकरणों में पारित आदेश/अंतरिम आदेश या अन्य दस्तावेज की सत्यप्रतिलिपि पक्षकार को प्रदाय एवं अभिलेख प्रकोष्ठ में जमा भू-अभिलेख/राजस्व प्रकरणों/नक्शों एवं अन्य अभिलेखों की सत्य प्रतिलिपि लोक सेवा केंद्रों के माध्यम से प्रदाय की जाएगी। इसके अतिरिक्त दो सेवाएं – चालू खसरा तथा चालू नक्शा लोक सेवा केंद्र के अतिरिक्त जिले के समस्त एम.पी. ऑनलाइन/सीएससी केन्द्रों के माध्यम से भी प्रदाय की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *